प्रदेश के नौजवानों को स्वावलम्बी बनाकर उनकी ऊर्जा का होगा सही इस्तेमाल: CM योगी

0
28
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को MSME  विभाग द्वारा संचालित हस्तशिल्पियों के कौशल विकास की प्रशिक्षण योजना, अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों के लिए प्रशिक्षण योजना तथा ओडीओपी-विपणन प्रोत्साहन योजना की ऑनलाइन प्रक्रिया का भी शुभारम्भ किया। उनहोंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत बनाने की दिशा में उत्तर प्रदेश सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ सभी सम्भावनाओं को गति देने का प्रयास कर रही है। लोगों को रोजगार देकर उन्हें स्वावलम्बी बनाना वर्तमान सरकार की प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर नई MSME इकाइयों के लिए आयोजित ऋण वितरण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए 98,743 नवीन इकाइयों को 2,447 करोड़ रुपये के ऋण ऑनलाइन वितरित किया। विभाग द्वारा संचालित हस्तशिल्पियों के कौशल विकास की प्रशिक्षण योजना, अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के व्यक्तियों के लिए प्रशिक्षण योजना तथा ओडीओपी-विपणन प्रोत्साहन योजना की ऑनलाइन प्रक्रिया का भी शुभारम्भ किया।

अगले 3 घंटे में यूपी के इन जिलों में होगी झमाझम बारिश, मौसम विभाग का अलर्ट

इस दौरान सीएम योगी के समक्ष प्रदेश में नॉलेज और टेक्नोलॉजी के आदान-प्रदान के उद्देश्य से MSME विभाग और तथा एकेटीयू के मध्य एमओयू हस्ताक्षरित किया गया। प्रदेश की एमएसएमई इकाइयों को अधिक से अधिक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर लाने के उद्देश्य से e-bay के साथ भी एमओयू अभिलेखों का आदान-प्रदान किया गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘एक जनपद, एक उत्पाद’ योजना के तहत 13 कॉमन फैसिलिटी सेण्टर का शिलान्यास तथा प्रदेश के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की एसाइड/निर्यात अवस्थापना योजना के अन्तर्गत 6 सामान्य सुविधा केन्द्रों (सीएफसी) का लोकार्पण किया। उन्होंने कल प्रदेश सरकार द्वारा संचालित विभिन्न स्वरोजगार कार्यक्रमों-प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यक्रम, ‘एक जनपद, एक उत्पाद’, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लाभार्थियों को चेक भेंट किया।

प्रयागराज: हाईकोर्ट के वकील अभिषेक शुक्ला को बदमाशों ने मारी गोली, अतीक अहमद गैंग से जुड़े तार | allahabad – News in Hindi

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जब आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह प्रभावित तब इन परिस्थितियों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देश के अलग-अलग तबके के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग ने आर्थिक पैकेज का बेहतर उपयोग किया है। इसके माध्यम से उद्यमियों के जीवन में खुशहाली लाने का प्रयास किया जा रहा है।

सीएम योगी ने सामान्य सुविधा केन्द्रों से सम्बन्धित प्रवर्तक तथा सुविधा केन्द्रों का संचालन करने वाली संस्थाओं से संवाद किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सम्भावनाओं का प्रदेश है। प्रदेश के नौजवानों को स्वावलम्बी बनाकर उनकी ऊर्जा का सही इस्तेमाल किया जा सकता है, जिससे प्रदेश का नवनिर्माण होगा।

Defence minister Rajnath Singh to launch ‘Atma Nirbhar Bharat Saptah’ today – रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज करेंगे ‘आत्मनिर्भर भारत सप्ताह’ की शुरुआत

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में प्रदेश सरकार विश्वव्यापी महामारी कोविड-19 में भी सम्भावनाओं को तलाश रही है। इसके दृष्टिगत एमएसएमई सेक्टर के उद्यमियों को ऋण वितरित किया जा रहा है।

मेरठ मेडिकल कॉलेज में मेडिकल कचरे से भरी बोरी सड़क पर बिखरी, मचा हड़कंप | meerut – News in Hindi

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here