SC का फैसला, पिता की जायदाद में बेटी होगी आधे हिस्से की हकदार, जानिए पूरा फैसला

0
18
.

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने आज बड़े फैसला सुनाते हुए कहा कि बेटियां भी पैतृक संपत्ति की उतनी ही हकदार होंगी जितना बेटे होंगे। भले ही कोपर्शनर की मृत्यु हिंदू उत्तराधिकार (अमेंडमेंट) अधिनियम, 2005 के लागू होने से पहले हुई हो। आपको बता दें कि अब हिंदू महिलाओं को अपने पिता की प्रॉपर्टी में भाई के बराबर हिस्सा मिलेगा।

PM मोदी ने कोविड-19 के दृष्टिगत राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉनफ्रेंसिंग के जरिए संवाद किया

दरअसल 2005 में ये कानून बना था कि बेटा और बेटी दोनों को अपने पिता की  संपत्ति में समान अधिकार होगा. लेकिन इस बात पर संदेह था कि अगर पिता का देहांत 2005 से पहले हुआ तो क्या ये कानून ऐसी फैमिली पर लागू होगा या नहीं। लेकिन आज जस्टिस अरुण मिश्रा की अगुआई वाली बेंच ने इस फैसले को सुनाते हुए कहा कि ये कानून हर हाल में लागू होगा। अगर पिता की मृत्यु 2005 के पहले भी हुई होगी तो भी बेटी का पूरा अधिकार होगा।

मशहूर शायर राहत इंदौरी नहीं रहे, एक साथ तीन हार्ट अटैक के चलते हुआ निधन

बताते चलें कि 2005 में हिंदू उत्तराधिकार कानून 1956 में संशोधन किया गया था। इसके मुताबिक पैतृक संपत्ति में बेटियों को बराबर का हिस्सा देने की बात कही गई है। कि क्लास 1 कानूनी वारिस होने के नाते संपत्ति पर बेटी का बेटे जितना हक है।

CM योगी ने यूपी में सर्विलान्स व्यवस्था को लेकर दिए निर्देश

 

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here