लखनऊ: बहुजन समाज प्रेरणा केंद्र में लगाई जा रही BSP सुप्रीमो मायावती की मूर्तियां, चर्चाएं गर्म | lucknow – News in Hindi

0
99
.

बसपा प्रेरणा स्थल पर लग रहीं हैं मायावती प्रतिमाएं

बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो के मुताबिक लखनऊ के लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर बसपा सरकार में बने प्रेरणा स्थल में मायावती (Mayawati) की प्रतिमाएं लगाने का काम चल रहा है. अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है

लखनऊ. 2012 में सत्ता से विदाई के बाद हर चुनाव में मायावती (Mayawati) सरकार पर मूर्ति प्रेम को लेकर सवाल खड़े होते रहे हैं. उनके ऊपर लखनऊ (Lucknow) और नोएडा (Noida) में करोड़ों की लागत से मूर्तियों (Statues) को लगाने का आरोप लगा और मामला कोर्ट में भी विचाराधीन है. अब 2022 के चुनाव से पहले एक बार फिर मायावती का मूर्तियों से प्रेम को लेकर एक मामला सामने आया है. बुधवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो के मुताबिक लखनऊ के लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर बसपा सरकार में बने प्रेरणा स्थल में मायावती की प्रतिमाएं लगाने का काम चल रहा है. अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. हालांकि न्यूज़ 18 इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है.

मीडिया रिपोर्ट्स और वायरल वीडियो के मुताबिक लाल बहादुर शास्त्री मार्ग पर बसपा सरकार में बने प्रेरणा स्थल में मायावती की प्रतिमाएं लगाने का काम चल रहा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक मायावती की तीन प्रतिमाएं प्रेरणा स्थल पर लगाई जा रही हैं. सफ़ेद संगमरमर से बनी तीन मूर्तियों को यहां स्थापित किया जा रहा है. कहा जा रहा है कि इसका काम कई साल से चल रहा था, लेकिन जब पूर्ण निर्मित मूर्तियों को लगाने के लिए प्रेरणा स्थल पर लाया गया तो लोगों को इस बात की जानकारी हुई.

बसपा का ये है कहना
बसपा के नेताओं ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि ये मूर्तियां नए सिरे से नहीं लगाई जा रहीं, बल्कि इन मूर्तियों को रेनोवेट किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि पहले जहां पर मूर्तियां लगी थीं, वहां पर बारिश और तेज धूप की वजह से मूर्ति के संगमरमर को नुकसान हो रहा था. लिहाजा उस जगह से हटाकर दूसरी जगह लगवाया जा रहा है. इसमें कुछ भी नया निर्माण नहीं किया जा रहा है.

प्रतिमाओं में मायावती हाथ में बैग लिए हुए हैं. संगमरमर की ये प्रतिमाएं बुधवार को खुले में आने के बाद चर्चा में आ गईं. करीब एक माह से यहां आधार का ढांचा तैयार हो रहा था, लेकिन तब किसी ने इस पर बहुत गौर नहीं किया. इन प्रतिमाओं को लगाने के लिए चार पिलर पर ढांचा तैयार किया गया है, जहां काले पत्थर लगाए गए हैं. ढांचे का स्वरूप गोमतीनगर में डॉ. भीमराव आंबेडकर स्थल की तरह है. यहां ऊपर से कवर ढांचे में ही मायावती की प्रतिमाएं लगी हैं. इस ढांचे के बीच में किसकी प्रतिमा लगेगी, यह अभी पता नहीं है, लेकिन जानकार बताते हैं कि वहां बड़े आकार की प्रतिमा लगेगी. शाम को तेज बारिश के कारण तीन प्रतिमाएं ही लग पाईं.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here