बेंगलुरू: डीजे हल्ली हिंसा मामले में गिरफ्तार आरोपी की मौत, कोरोना टेस्ट आया था पॉजिटिव

0
20
.
accused in DJ Halli case died today at Bowring Hospital during treatment
Image Source : PTI

बेंगलुरू के डीजे हल्ली इलाके में इसी सप्ताह हुई हिंसा के मामले गिरफ्तार आरोपी सैयद नदीम की स्थानीय अस्पताल में शनिवार शाम मौत हो गई। नदीम कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। नदीम ने आज सीने और पेट में दर्द के साथ ही दम घुटने की शिकायत की थी। जिसके बाद उसे बेंगलुरू के बोरिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां आज उसने दम तोड़ दिया। बता दें कि बेंगलुरू में 12 अगस्त को हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने सैयद नदीम को गिरफ्तार किया था। बाद में उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। 

शहर में 11 अगस्त की रात हुई हिंसा के मामले में अबतक कुल 11 एफआईआर दर्ज किये गए हैं जिनमें से सात एफआईआर डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन में दर्ज हुए हैं। यह जानकारी बेंगलुरु पुलिस की ओर से दी गई है। शहर में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने 206 लोगों को गिरफ्तार किया है। विधायक के भतीजे ने फेसबुक पोस्ट पर टिप्पणी की बात मान ली है।

 गिरफ्तार किए गए लोगों में से एक व्यक्ति कलीम पाशा नागवारा वार्ड की नगरसेवक इरशाद बेगम का पति है। अब तक गिरफ्तार किए गए लोगों में से 80 लोगों को बल्लारी जेल में स्थानांतरित कर दिया गया है। बेंगलुरु में 11 अगस्त की रात यह हिंसा एक विवादित फेसबुक पोस्ट के बाद भड़की थी।

कर्नाटक कांग्रेस विधायक के भतीजे पी. नवीन ने फेसबुक पर अपमानजनक टिप्पणी पोस्ट करने की बात स्वीकार की है, जिससे 11 अगस्त को शहर के पूर्वी उपनगर में दंगे भड़क उठे थे। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

बेंगलुरु पूर्व के पुलिस उपायुक्त एसडी शरणप्पा ने कहा, “पूछताछ के दौरान, नवीन ने अपमानजनक टिप्पणी पोस्ट करने की बात स्वीकार कर ली, जिसे पहले उसने नकार दिया था और यह दावा किया कि उसका फेसबुक अकाउंट हैक कर लिया गया था, जब उसे 12 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था।”26 वर्षीय नवीन, शहर के उत्तर-पूर्वी उपनगर में पुलकेशिनगर (रिजर्व) खंड से कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के भतीजे हैं।

सोशल मीडिया पोस्ट से भड़के सैकड़ों लोगों ने उग्र प्रदर्शन किया और डीजे हाली पुलिस स्टेशन में आग लगा दी थी। उन्होंने कई पुलिस और निजी वाहनों को आग लगा दी, विधायक के घर पर तोड़-फोड़ की। एक एटीएम को भी तहस-नहस कर दिया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठियां चलाईं, आंसू गैस के गोले दागे और बाद में गोलियां चलाईं, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई।  डीजे हाली और केजी हाली में कर्फ्यू लगाना पड़ा। 

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here