भोपाल में भारत माता की 37 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण, CM शिवराज बोले- आज मेरा संकल्प साकार हुआ

0
17
.
भोपाल में भारत माता की 37 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण
Image Source : TWITTER

भोपाल: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मध्य प्रदेश की राजधानी के शौर्य स्मारक में भारत माता की प्रतिमा का अनावरण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया। यह प्रतिमा कांसे की बनी है और इसकी ऊंचाई 37 फुट है। प्रतिमा का अनावरण करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, “भारत माता हमे शक्ति दें कि मध्य प्रदेश वैभवशाली, गौरवशाली और संपन्न देश के निर्माण में अपना सशक्त योगदान दे सके।” चौहान ने कहा कि देश पर सर्वस्व न्यौछावर करने वाले वीर सपूत सैनिकों की स्मृति में निर्मित शौर्य स्मारक में भारत माता की दिव्य और भव्य प्रतिमा स्थापित करने का मेरा संकल्प आज साकार हुआ।

मुख्यमंत्री चौहान ने भारत माता की प्रतिमा स्थापित करने के निर्णय के पलों को याद करते हुए कहा, “शौर्य स्मारक पर वीरों को श्रद्घा सुमन अर्पित करने आये सरसंघ चालक मोहन भागवत सहित अनेक लोगों के मन में अक्सर यह भाव आता था कि यहां भारत माता की मूर्ति होनी चाहिए। यह सपना आज साकार हुआ। शौर्य स्मारक आने वाला हर व्यक्ति वीर सपूतों को श्रद्घांजलि देकर भारत माता को प्रणाम कर देश भक्ति के भाव से भर जायेगा।”

संस्कृति, पर्यटन एवं आध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर ने भी शौर्य स्मारक पर वीर सपूतों को पुष्पचक्र अर्पित करने के बाद भारत माता को पुष्पांजलि अर्पित की। भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर, पूर्व महापौर आलोक शर्मा, साधना सिंह और पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव शिवशेखर शुक्ला भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री चौहान ने इस अवसर पर भारत माता की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार राजकुमार पण्डित का शॉल-श्रीफल से सम्मान किया।

उल्लेखनीय है कि भोपाल में 13 एकड़ क्षेत्र में निर्मित शौर्य स्मारक का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 14 अक्टूबर 2016 को किया था। स्मारक की प्रथम वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री चौहान ने यहां भारत माता की प्रतिमा स्थापना का संकल्प लिया था।

प्रतिमा स्थापना के लिए विशेषज्ञों, वास्तुविदों, शिल्पकारों, चित्रकारों, आकल्पनकारों और संस्थानों आदि से प्रस्ताव आमंत्रित करने के बाद आर्शीवचन की मुद्रा में राष्ट्रध्वज सहित कमल पर भारतमाता की लगभग 25 फुट (पेडस्टल सहित 37 फुट) कांस्य प्रतिमा स्थापित की गई है। प्रतिमा के पेडस्टल पर अशोक चक्र के साथ राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत भी उकेरा गया है।



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here