Coronavirus-Covid-19, Japans Economy Contracts At Record Pace, GDP Declines More Than 27 Percent-ब्रिटेन के बाद अब जापान में कोरोना वायरस ने मचाया हाहाकार, GDP 27.8 फीसदी लुढ़की

0
24
.

Coronavirus (Covid-19): मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना वायरस की वजह से जापान भारी आर्थिक मंदी की चपेट में आ गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में जापान की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है.

GDP (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Coronavirus (Covid-19): ब्रिटेन के बाद अब जापान (Japan) में कोरोना वायरस (Coronavirus Epidemic) ने हाहाकार मचाया हुआ है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना वायरस की वजह से जापान भारी आर्थिक मंदी (Economic Slowdown) की चपेट में आ गया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में जापान की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है और अप्रैल से जून तिमाही के दौरान जापान की GDP वार्षिक दर के मुकाबले 27.8 फीसदी घटी है. 

यह भी पढ़ें: सोने-चांदी के प्रति आकर्षण कायम, तेजी के साथ कारोबार के आसार

1980 के बाद जापान की जीडीपी में सबसे बड़ी गिरावट
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1980 के बाद जापान की जीडीपी में यह सबसे बड़ी गिरावट है. मौजूदा समय में जापान की हालत काफी खराब हैं और स्थिति यह है कि वहां के नागरिकों की आमदनी भी काफी कम हो गयी है. बता दें कि खराब आर्थिक स्थिति को देखते हुए मई के अंत में जापान में लॉकडाउन को हटाने की शुरुआत हो गई थी. लॉकडाउन में ढील से जापान की अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटना भी शुरू हो गई थी. हालांकि बाजार के जानकारों का कहना है कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने की वजह से नागरिक अब काफी संयमित तरीके से खर्च कर रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जापान में लगातार तीसरी में अर्थव्यवस्था में गिरावट देखने को मिली है. जानकारों का अनुमान है कि आने वाले समय में जापान की जीडीपी 27.2 फीसदी तक सिकुड़ सकती है.

यह भी पढ़ें: हफ्ते के पहले कारोबारी दिन आज सोने-चांदी में क्या करें निवेशक, जानिए यहां 

ब्रिटेन की जीडीपी में 20.4 प्रतिशत की गिरावट
ब्रिटेन में कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Epidemic) पर काबू पाने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के चलते दूसरी तिमाही में जीडीपी (GDP) में 20.4 प्रतिशत की कमी आई, जिसके साथ ही अर्थव्यवस्था आधिकारिक रूप से मंदी की चपेट में आ गई है. ब्रिटेन में लगातार दो तिमाही के दौरान नकारात्मक विकास दर होने पर अर्थव्यवस्था को आधिकारिक रूप से मंदी की चपेट में माना जाता है. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2020 की पहली तिमाही में अर्थव्यवस्था 2.2 प्रतिशत घटी थी.


First Published : 17 Aug 2020, 09:50:59 AM

For all the Latest Business News, Economy News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here