BHU के कुलपति का ऑडियो वायरल, कहा- आम के पेड़ों की जगह, महामना पैसों के पेड़ लगा जाते तो… | varanasi – News in Hindi

0
38
.

बीएचयू के कुलपति राकेश भटनागर के इस कथित ऑडियो वायरल होने से नया विवाद खड़ा हो सकता है

बीएचयू छात्रों (BHU Students) की मुफ्त चिकित्सा परामर्श की मांग पर कुलपति राकेश भटनागर (BHU VC Rakesh Bhatnagar) कथित वायरल ऑडियो (Viral Audio) में यह कहते सुनाई देते हैं, ‘महामना जी आम के पेड़ तो लगा गए, अगर मेरे लिए कुछ रुपए के पेड़ लगा जाते तो हम सबकुछ फ्री कर देते’


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 19, 2020, 11:37 PM IST

वाराणसी. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) के कुलपति प्रोफेसर राकेश भटनागर (BHU VC Rakesh Bhatnagar) का एक कथित ऑडियो तेजी से वायरल (Audio Viral) हो रहा है. इस वायरल ऑडियो में कुलपति ने भारत रत्न महामना पंडित मदन मोहन मालवीय (Madan Mohan Malviya) को लेकर विवादित बयान दिया है. दरअसल पिछले काफी दिनों से बीएचयू के छात्र (BHU Students) यहां स्थित सर सुंदरलाल अस्पताल में मुफ्त चिकित्सा परामर्श की मांग उठा रहे हैं. दरअसल छात्रों को हेल्थ डायरी के साथ यह सुविधा पहले मिलती थी लेकिन कोरोना काल में लॉकडाउन के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह सुविधा बंद कर दी है. इसके लिए अब छात्रों को 20 रूपए की पर्ची कटानी पड़ रही है. छात्र इसको लेकर काफी दिनों से आंदोलनरत हैं.

बताया जाता है कि छात्र अभिषेक सिंह ने इस बाबत जब कुलपति प्रोफेसर राकेश भटनागर को फोन किया और इस मामले का संज्ञान लेने का अनुरोध किया. तो कुलपति महोदय ने यह विवादित बयान दिया. कथित वायरल ऑडियो में कुलपति यह कहते सुनाई दे रहे हैं, ‘महामना जी आम के पेड़ तो लगा गए, अगर मेरे लिए कुछ रुपए के पेड़ लगा जाते तो हम सबकुछ फ्री कर देते.’

BHU

भारत रत्न महामना पंडित मदन मोहन मालवीय ने वर्ष 1916 में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की स्थापना की थी

’60 करोड़ मिलते हैं, लेकिन 66 करोड़ का बिजली बिल खर्च आता है’इसके अलावा कथित वायरल ऑडियो में कुलपति यह भी कह रहे हैं कि विश्वविद्यालय को यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (UGC) 60 करोड़ रुपया देता है. जबकि 66 करोड़ रुपया तो केवल बिजली का खर्च होता है. आगे उन्होंने कहा कि अगर आप सरकार से कहकर बजट बढ़वा दें और साठ की जगह 70 करोड़ करा देंगे तो मैं बंद कर दूंगा. हालांकि न्यूज़ 18 वायरल हो रहे इस ऑडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता.

फिलहाल कुलपति का यह कथित आडियो वायरल होने के बाद हर जगह नई चर्चा शुरू हो गई है. माना जा रहा है कि यह कथित ऑडियो आने वाले दिनों में बीएचयू कैंपस का माहौल एक बार फिर गर्मा सकता है. हालांकि इस पूरे मामले में बीएचयू के कुलपति या फिर बीएचयू के पीआरओ की ओर से अभी तक कोई बयान नहीं आया है.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here