विकास दुबे के पुराने केसों की फाइल गायब, न्यायिक जांच आयोग ने मांगी रिपोर्ट

0
64
.

कानपुर। कुख्यात अपराधी विकास दुबे भले ही एनकाउंटर में मारा गया हो लेकिन उसके द्वारा किए गए कुकर्मों की फाइलें जरूर खुलेंगी। जी हां, विकास दुबे से जुड़ी हर कड़ी का राज एसटीएफ जानना चाहती है। विकास दुबे से जुड़े हर अपराधिक मामलों की छानबीन हो रही है। आपको बता दें साल 2004 में कानपुर में केबिल ऑपरेटर की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में भी विकास दुबे शामिल था। अब जब इस मामले की जांच करने की बात उठी तो इस केस से जुड़ी फाइलें गायब हो गई हैं। हालांकि उस केस में विकास दुबे बरी हो गया था। फाइल गायब होने की जानकारी मिलते ही पुलिस की धड़कनें बढ़ गई हैं। इस मामले में एसआईटी और न्यायिक जांच आयोग दोनों ने ही रिपोर्ट मांगी है पर फाइल का कुछ अता पता नहीं है।

सुशांत सिंह राजपूत मामले पर सुब्रमण्यम स्वामी का बयान

बता दें कि साल 2004 में बर्रा 2 निवासी केबिल ऑपरेटर दिनेश दुबे की हत्या की गई थी। इस घटना को बर्रा 7 में अंजाम दिया गया था। आपको बता दें कि इस मामले में विकास दुबे समेत चार लोग आरोपी साबित हुऐ थे। जिसमें दो सगे भाइयों को आजीवन कारावास की सजा हुई थी। बता दें कि विकास दुबे इस केस से बरी हो गया था।

UP में इस साल 139 पर लगा NSA, सीएम योगी बोले- लोक व्यवस्था प्रभावित करने वालों पर बरतें पूरी सख्ती | lucknow – News in Hindi

अब आठ पुलिसवालों की हत्या करने के बाद पुलिस द्वारा विकास के सभी केस दोबारा खोलने और उनमें फिर से जांच करने का निर्णय लिया गया।

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here