Preparations for BHU entrance exams completed; SOP issued to all centers in view of Kovid 19 pandemic | बीएचयू में प्रवेश परीक्षाओं के लिए तैयारियां पूरी, कोविड19 महामारी के मद्देनज़र सभी परीक्षा केंद्रों को जारी की गई एसओपी

0
67
.

वाराणसी11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी के बीच बीएचयू में प्रवेश परीक्षा की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

  • देश भर में बनाए गए परीक्षा केंद्रों पर होंगी काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षाएं
  • सभी केन्द्रों को प्रवेश परीक्षा के आयोजन संबंधी एसओपी जारी, सख़्ती से पालन के निर्देश

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के स्नातक व परास्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए देश भर में फैले परीक्षा केन्द्रों पर होने वाली प्रवेश परीक्षाओं के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अभ्यर्थियों को परीक्षा देने में कोई परेशानी न हो व कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ने व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पहले चरण की प्रवेश परीक्षाएं 24 अगस्त से 31 अगस्त, 2020 के मध्य आयोजित की जा रही हैं, जिनमें सभी स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों एवं स्नातक स्तर के कुछ पाठ्यक्रम शामिल हैं।

द्वितीय चरण की प्रवेश परीक्षाओं का आयोजन 9 से 18 सितम्बर, 2020 के बीच होगा, जिसमें स्नातक स्तर के शेष पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षाएं होंगी। अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र बीएचयू के प्रवेश परीक्षा पोर्टल www.bhuonline.in पर जारी किए जा रहे हैं।

कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र कई कदम उठाए गए हैं
इस संबंध में शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार, द्वारा परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) का बीएचयू में सभी केन्द्रों पर सख़्ती के साथ पालन किया जाएगा। बीएचयू व वाराणसी के बाहर भी सभी परीक्षा केन्द्रों को यूईटी-पीईटी के आयोजन के लिए एसओपी जारी कर दी गई है और ये निर्देशित किया गया है कि इनका सख़्ती के साथ पालन सुनिश्चित किया जाए।

परीक्षा के दौरान भौतिक दूरी के नियम कायम करने के लिए अभ्यर्थियों के बैठने की व्यवस्था इस तरह की जाएगी कि दो अभ्यर्थियों के बीच कम से कम दो मीटर का फ़ासला हो। परीक्षा केंद्रों, मेज व कुर्सियों को डिसइन्फैक्ट किया जाएगा।

हर शिफ़्ट की परीक्षा के बाद परीक्षा हॉल की स्वच्छता सुनिश्चित की जाएगी
कोविड-19 महामारी से बचाव के मद्देनज़र जारी दिशानिर्देशों के आलोक में परीक्षाओं के आयोजन में होने वाले अतिरिक्त ख़र्च को वहन करने के लिए काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ने परीक्षा केंद्रों को पिछले साल के मुकाबले लगभग दोगुनी राशि उपलब्ध कराई है। सभी परीक्षा केन्द्रों पर पर्यवेक्षक होंगे व केन्द्रीय पर्यवेक्षक टीम इस बात की निगरानी करेगी कि परीक्षा के आयोजन संबंधी एसओपी का पालन हो रहा है कि नहीं।

प्रवेश परीक्षाओं के सुचारू संचालन के लिए काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. राकेश भटनागर ने उन सभी ज़िलों के ज़िलाधिकारियों को पत्र लिखा है, जहां भी परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई के लिए शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार, के उच्च शिक्षा विभाग ने भी संबंधित राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र भेजा है।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here