24 hours later, police are investigating on empty hands, property and family strife, more than a dozen inquiries including relatives | 24 घंटे बाद पुलिस के हाथ खाली; सम्पत्ति और पारिवारिक कलह के एंगल पर भी हो रही जांच, रिश्तेदार समेत एक दर्जन से ज्यादा से हुई पूछताछ

0
88
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • 24 Hours Later, Police Are Investigating On Empty Hands, Property And Family Strife, More Than A Dozen Inquiries Including Relatives

लखनऊ14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

राजधानी के निेगोहां इलाके में हुए तिहरे हत्याकांड की जांच में पुलिस जुटी हुई है। हांलाकि 24 घंटे के बाद भी पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है।

  • भारी पुलिस बल की मौजूदगी में तीनों शवों का हुआ पोस्टमार्टम
  • इस मामले में क्राइम ब्रांच और सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के निगोहां में बुजुर्ग दंपती समेत चौकीदार हत्याकांड मामले में शवों के पोस्टमार्टम होने के बाद शुक्रवार को उनके गांव भेज दिया गया। पुलिस फोर्स की मौजूदगी में बुजुर्ग दंपती का राती और चौकीदार का उदयपुर गांव में अंतिम संस्कार किया गया। एक ही इलाके में बुजुर्ग दंपती और एक चौकीदार की हुई हत्या के खुलासे को लेकर पुलिस की पांच टीमें लगाई गई है। क्राइम ब्रांच और सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है। आईजी लक्ष्मी सिंह व पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) खुद थाने में डेरा डालकर पूरे प्रकरण पर नजर बनाए हुए है।

सम्पत्ति और पारिवारिक मामले में जुटी पुलिस
वारदात में शक की सूईयां संपत्ति और पारिवारिक मामले को लेकर की गई हत्या की तरफ उठ रही है। फिलहाल 24 घंटे से ज्यादा का समय हो गया जांच इसी बिंदु पर चल रही है। इसी के आधार पर वहीं, पुलिस कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। हिरासत में लिए गए लोगों में कुछ मृतक के रिश्तेदार भी शामिल हैं। फिलहाल, घटना का खुलासा अभी नहीं हो सका है।

एक थाना क्षेत्र में मिले थे तीन शव
निगोहां के राती गांव निवासी रामसनेही साहू पत्नी राम जानकी के साथ नगराम मोड़ के पास हाईवे किनारे मकान बनवा कर चार साल से रहते थे। 19 अगस्त को दंपती घर में मौजूद था। इसी बीच हमलावर घर में दाखिल हुए और दोनों की पत्थर से सिर कूचकर हत्या कर दी। अगले दिन गुरुवार दोपहर (20 अगस्त) में रामसनेही की बेटी साधना के बेटे विनय और अजय नाना-नानी के घर पहुंचे तो वारदात का पता चला।

दोनों जैसे ही घर में दाखिल हुए सामने फर्श पर राम जानकी और चारपाई पर रामसनेही का शव लहूलुहान पड़ा था। रामसनेही के तीन बेटे मूलचंद, राम नारायण और लक्ष्मी नारायण हैं। वहीं, पुलिस घटना की छानबीन कर रही थी कि वहां मौजूद लोगों ने झाड़ियों में एक शव देख शोर मचाया। पता चला कि शव 45 साल के चौकीदार शत्रुघ्न का है, जो दो दिन से लापता था।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here