Mumbai woman suffers miscarriage due to Covid-19, Family planning risks during Coronavirus Pandemic – कोरोना काल में फैमिली प्लानिंग जरा सावधानी से! कोविड-19 के कारण गर्भपात का पहला मामला

0
61
.

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई:

क्या कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के चलते गर्भपात (Miscarriage) का खतरा बढ़ गया है? मुंबई (Mumbai) में ऐसा पहला मामला सामने आया है. ICMR के रिसर्च इंस्टीट्यूट नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च इन रिप्रोडक्टिव हेल्थ (NIRRH) ने इसकी पुष्टि की है. इस पर कई अस्पतालों के साथ जुड़कर रिसर्च जारी है. डॉक्टर इशारा कर रहे हैं कि कोरोना काल में फ़ैमिली प्लानिंग में बहुत सावधानी बरतने की ज़रूरत है. मुंबई में कोविड के कारण गर्भपात का पहला मामला सामने आया है. प्लेसेंटा, फेटस भी पॉज़िटिव पाया गया. महिला से उसे बच्चे में कोविड-19 (Covid-19) का संक्रमण पहुंचा.

इस कोरोना काल में गर्भवती महिलाओं को ज़्यादा सतर्कता की ज़रूरत है. मुंबई में तीन महीने से गर्भवती एक महिला की गर्भनाल पर हुए कोरोना वायरस के अटैक से डॉक्टर हैरान हैं. बताया जा रहा है कि कोविड-19 संक्रमण के चलते महिला का गर्भपात हो गया. इस केस पर रिसर्च कर रहे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च इन रिप्रोडक्टिव हेल्थ  के मुताबिक यह ऐसा पहला मामला है. 

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च इन रिप्रोडक्टिव हेल्थ की निदेशक डॉ स्मिता महाले ने कहा कि ‘’इस पेशेंट का प्लेसेंटा इन्फ़ेक्टेड था. आरटीपीसीआर द्वारा टेस्ट किया, पॉज़िटिव आया. प्लेसेंटा और फ़्लूइड पॉज़िटिव आया. अबोर्टेड फेटस भी पॉजिटिव आया. इस केस में हम समझते हैं कि माता से बच्चे को संक्रमण हुआ. ऐसा नहीं है कि सभी केस में वर्टिकल ट्रांसमिशन हो सकता है. रिपोर्ट के अनुसार  8-10% प्रेगनेंट औरतें अपने बच्चों में संक्रमण ट्रांसफर कर सकती हैं.”

UGC ने उच्च शिक्षण संस्थानों से कहा- Covid टेस्ट के लिए अस्पतालों में RT-PCR मशीनें लगाएं

यूं तो कई कोरोना पॉजिटिव महिलाओं के बच्चे स्वस्थ और कोरोना मुक्त हुए हैं लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना काल में फ़ैमिली प्लानिंग ज़रा सावधानी से बरतने की ज़रूरत है. फ़िलहाल मुंबई के कई अहम अस्पतालों से जुड़कर इस पर एक स्टडी चल रही है क्योंकि पूरी दुनिया में गर्भ में भ्रूण तक कोरोना का असर पहुंचने के बारे में बेहद कम जानकारी मिल सकी है.

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here