Mystery girl who came to Sushant’s house on the day of his death, people stop spreading fake news | सामने आई सुशांत की मौत के दिन उनके घर जाने वाली मिस्ट्री गर्ल, बोली-फेक न्यूज फैलाना बंद करें लोग

0
107
.

मुंबई6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शिबानी अभिनेता फरहान अख्तर की अच्छी दोस्त हैं और उन्होंने ट्विटर पर अपनी सफाई दी है।

  • सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में एक न्यूज चैनल ने क्राइम सीन के कुछ अनसीन वीडियो सामने आने का दावा किया था
  • 14 जून को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव उनके घर पर पंखे से लटका हुआ मिला था, मुंबई पुलिस ने इसमें एडीआर दर्ज की है

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के दिन उनके घर जाने वाली मिस्ट्री गर्ल का राज खुल गया है। 14 जून के एक वीडियो में ब्लू और व्हाइट रंग की स्ट्रिप्ड शर्ट पहने एक लड़की सुशांत सिंह राजपूत के घर में घुसती हुई नजर आई थी। अब यह खुलासा हुआ है कि यह लड़की रिया चक्रवर्ती की फ्रेंड शिबानी दांडेकर हैं। शिबानी ने सामने आकर सच बताया है। शिबानी और अभिनेता फरहान अख्तर के बीच भी रिश्ते की बात सामने आती रही हैं।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘ये मैं नहीं हूं और ये सिमोन भी नहीं है। शक करने से पहले कृपया फैक्ट चैक कर लें। ये सुशांत सिंह राजपूत की पीआर पर्सन और असिस्टेंट राधिका निहलानी हैं। फेक न्यूज को फैलाना बंद करें। बहुत हो गया। मेरी खामोशी आपको इस बात की इजाजत नहीं देती है कि आप झूठ और घृणा ना फैलाएं।’

एक वीडियो के आधार पर उठाया जा रहा था सवाल

रिपब्लिक टीवी द्वारा जारी एक वीडियो में ब्लू और व्हाइट रंग की स्ट्रिप्ड शर्ट पहने एक लड़की भी सुशांत के बिल्डिंग कम्पाउंड में दौड़ती नजर आती है। वह जाकर इस ब्लैक ड्रेस वाले शख्स से मिलती है और कुछ बात करती है। इसके बाद ब्लैक ड्रेस वाले व्यक्ति के हाथ से बैग गायब नजर आता है। खास बात यह है कि जिस समय यह सब हो रहा होता है, तब मुंबई पुलिस भी वहीं मौजूद रहती है।

सुशांत के घर पर 14 जून को नजर आईं थी शिबानी।

सुशांत के घर पर 14 जून को नजर आईं थी शिबानी।

सुशांत के पिता के वकील ने भी उठाया था सवाल

वीडियो देखने के बाद सुशांत की फैमिली वकील विकास सिंह ने महिला की पहचान को लेकर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था, “अगर कोई आदमी घर से कुछ लेकर जा रहा है तो यह संदिग्ध है। अगर वह किसी लड़की से बात करता है, जो बाद में गायब हो जाती है। यह बहुत ही संदिग्ध है। उस लड़की की पहचान की जानी चाहिए।” विकास सिंह ने इसे लेकर मुंबई पुलिस को भी घेरा था। उनका कहना था कि मुंबई पुलिस की मौजूदगी में कैसे एक अनजान शख्स और महिला क्राइम सीन में आ-जा सकती है। उन्होंने संदेह जताया कि कहीं यह सब सबूत मिटाने के लिए तो नहीं किया गया?

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here