psychiatrist Dr. Harish Shetty targeted Riya Chakraborty, questioned medicine she has told is not for depression, why are she lying? | डॉ. हरीश शेट्टी ने रिया चक्रवर्ती पर साधा निशाना, सवाल उठाया उन्होंने जो दवा बताई है वह डिप्रेशन के लिए है ही नहीं है, वे झूठ क्यों बोल रही हैं

0
42
.

  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Psychiatrist Dr. Harish Shetty Targeted Riya Chakraborty, Questioned Medicine She Has Told Is Not For Depression, Why Are She Lying?

43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गुरुवार को रिया चक्रवर्ती ने एक बार फिर सनसनी फैलाकर खुद को बेगुनाह साबित करने की कोशिश की। इस कोशिश में वे मनोचिकित्सक हरीश शेट्‌टी का नाम ले बैठीं, जिसके बाद बॉलीवुड के नामी लोगों ने डॉ. हरीश शेट्‌टी के बारे में अपनी राय रखी। जिससे उनके झूठ का पर्दाफाश होता नजर आया। डॉ. ने विवेकरंजन अग्निहोत्री के ट्वीट्स को रि-ट्वीट किया और सवाल उठाया कि जिस दवा का नाम रिया ने लिया है वह डिप्रेशन की नहीं है, वे झूठ क्यों बोल रही हैं।

रिया के इस दावे को किया खारिज

रिया ने न्यूज चैनल आज तक को दिए एक इंटरव्यू में यह बात कही थी। रिया ने दावा किया था कि 2013 में डॉ. हरीश शेट्टी सुशांत का इलाज कर चुके थे और उनकी बताई दवा ही सुशांत लेते थे। रिया के अनुसार सुशांत को क्लस्ट्रोफोबिया था, जिसके लिए वे एक दवा लेते थे। दवा का नाम रिया ने मोडाफिनिल बताया था। हालांकि डॉ. हरीश शेट्‌टी ने खुद ये बातें नहीं लिखी हैं, लेकिन उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर इन्हें शेयर किया है।

डॉ. हरीश शेट्टी ने विवेक अग्निहोत्री के ट्वीट को रीट्वीट किया, जिसमें रिया के इंटरव्यू और होस्ट एंकर को उनके अनप्रोफेशनल व्यवहार के लिए सवाल उठाया है। विवेक ने लिखा- डॉ. हरीश शेट्टी का नाम लेना सबसे गैर-जिम्मेदार और अनैतिक व्यवहार है। मैं डॉ. शेट्टी को अच्छी तरह से जानता हूं। वे हाईएस्ट एथिक्स वाले डॉक्टर हैं वे कभी भी अपने पेशेंट की जानकारी डिस्कलोज नहीं करते।

विवेक ने एक और ट्वीट किया – जो दवा रिया ने बताई है वह डिप्रेशन की नहीं है। एंकर इस बात को सच कैसे मान सकते हैं। सच पता करने का केवल एक ही रास्ता है साइकोलॉजिकल अटॉप्सी।

सौम्या दिप्ता ने भी बताई कई बातें

सौम्या दिप्ता ने भी अपने ट्वीट्स के जरिए रिया की मोडाफिनिल थ्योरी पर सवाल उठाए। उन्होंने कई ट्वीट्स में लिखा- मुझे पता है कि डॉ. शेट्‌टी ने सुशांत को कभी भी बाइपोलर या डिप्रेस्ड नहीं बताया। एनजाइटी एक आम परेशानी है। यह अवसाद नहीं है। मोडाफिनिल ऐसे केस कभी नहीं दी जाती है।

रिया चक्रवर्ती जिस परामर्श की बात कर रही हैं, वह 2013 का है। प्रैक्टिस के अनुसार मेडिकल रिकॉर्ड्स केवल 5 साल तक के लिए प्रिजर्व रहते हैं। सुशांत 2013 से डॉ. शेट्टी से लगातार इलाज नहीं करवा रहे थे। उन्होंने कभी भी डिप्रेशन के लिए सुशांत का इलाज नहीं किया। यह सच नहीं है। डॉ. शेट्टी ने कभी भी किसी भी तरह के फोबिया या मानसिक बीमारी के लिए सुशांत का इलाज नहीं किया।

मुझे यह जानने की उत्सुकता है कि रिया चक्रवर्ती को सुशांत के मेडिकल रिकॉर्ड्स के बारे में कैसे पता चला जो 2013 के थे? वे 2013 के मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन के बारे में अब क्यों बोल रही हैं? डॉ. शेट्टी को क्यों घसीटा, जबकि उन्होंने सुशांत को डिप्रेस्ड नहीं बताया? डॉ. शेट्टी ने सुशांत को कभी बाइपोलर नहीं पाया था।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here