रिया चक्रवर्ती का दावा 7 साल से सुशांत खा रहे थे मोडाफिनिल टैबलेट, जानिए क्या है ये दवा | health – News in Hindi

0
113
.

मोडाफिनिल टैबलेट किन रोगियों को दी जाती है आज इसके बारे में जानते हैं.

सुशांत (Sushant) को ड्रग्स (Drugs) दिए जाने के आरोप के मामले में घिरतीं ऐक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती (Riya Chakraborty) ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू (Interview) में बताया कि सुशांत 2013 से मोडाफिनिल (Modafinil) टैबलेट खा रहे थे. यह टैबलेट क्या है और किन लोगों को दी जाती है इसके बारे में हम आपको बता रहे हैं.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    August 28, 2020, 11:54 AM IST

बॉलीवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में हर दिन एक नया खुलासा हो रहा है. सुशांत को ड्रग्स दिए जाने के आरोप के मामले में घिरती नजर आ रहीं ऐक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि सुशांत सिंह राजपूत साल 2013 से ही मोडाफिनिल (Modafinil) नाम की एक दवा का सेवन कर रहे थे. रिया का दावा है कि 2013 में भी सुशांत को डिप्रेशन (Depression) हुआ था जिसके बाद उन्होंने साइकायट्रिस्ट (Psychiatrist) से अपना इलाज करवाया जिसने उन्हें क्लौस्ट्रोफोबिया (तंग जगह पर जाने पर डर या बेचैनी महसूस होना) को कंट्रोल करने के लिए मोडिफिनिल दवा प्रिस्क्राइब की थी. रिया का दावा है कि सुशांत फ्लाइट में बैठने से पहले भी मोडाफिनिल दवा लिया करते थे.

सतर्कता बढ़ाने और ऊंघाई दूर करने के लिए दी जाती है मोडाफिनिल
एक मशहूर अंग्रेजी अखबार ने मुंबई की एक मशहूर साइकायट्रिस्ट डॉ अंजली छाबरिया से बात की और उनसे मोडाफिनिल दवा के बारे में पूछा. डॉ छाबरिया की मानें तो मोडाफिनिल सिर्फ प्रिस्क्रिप्शन पर दी जाने वाली दवा है जिसे किसी व्यक्ति में चौकसी या सतर्कता बढ़ाने के लिए दिया जाता है. यह कोई हानिकारक दवा नहीं है लेकिन कोई भी साइकायट्रिक दवा बिना प्रिस्क्रिप्शन के ओटीसी के तौर पर नहीं बेची जा सकती. जिन लोगों को हर वक्त सुस्ती और ऊंघाई की समस्या होती है उन्हें यह दवा प्रिस्क्राइब की जाती है.

मोडाफिनिल का इस्तेमाल

  • मोडाफिनिल, नार्कोलैप्सी और नींद की अन्य बीमारियों के कारण जिन लोगों को बहुत अधिक नींद आती है उन्हें दी जाती है.
  • इसके अलावा ऑब्सट्रक्टिव स्लीप ऐप्निया (नींद के दौरान सांस लेना बंद कर देना) की बीमारी में भी मोडाफिनिल प्रिस्क्राइब की जाती है.
  • इस दवा का उपयोग आपको काम के घंटे के दौरान जागने में मदद करने के लिए भी किया जाता है, खासकर तब जब आपके काम का कोई ऐसा शेड्यूल हो जिसमें आपको सामान्य नींद की दिनचर्या से बचना हो.

बच्चे को फूड एलर्जी है या नहीं ऐसे लगा सकते हैं पता, जानिए इसके कारण और इलाज

यह दवा नींद से जुड़ी इन बीमारियों का इलाज नहीं करती और ना ही उनींदापन को पूरी तरह से दूर करती है. मोडाफिनिल का इस्तेमाल उन लोगों के लिए नहीं किया जाना चाहिए जिन्हें नींद की बीमारी नहीं है लेकिन फिर भी वे अपनी नींद को रोकना चाहते हैं. मोडाफिनिल आपको जागृत रखने के लिए कैसे काम करती है इस बारे में कोई स्पष्ट बात अब तक सामने नहीं आयी है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि यह दवा मस्तिष्क के उन पदार्थों को प्रभावित करती है जो जागने और सोने के चक्र (स्लीप-वेक साइकल) को नियंत्रित करते हैं.

मोडाफिनिल की डोज आपकी चिकित्सीय स्थिति और उपचार की प्रतिक्रिया पर निर्भर करती है. इसका सबसे ज्यादा फायदा पाने के लिए इस दवा का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए. हालांकि, यह दवा कई लोगों की मदद करती लेकिन कभी-कभी यह लत का कारण भी बन सकती है.

मोडिफिनिल के साइड इफेक्ट्स
दवा के बुरे प्रभावों या साइड इफेक्ट्स की बात करें तो मोडिफिनिल का सेवन करने पर सिरदर्द, जी मिचलाना या उल्टी आना, घबराहट, चक्कर आना, सोने में कठिनाई जैसी समस्याएं हो सकती हैं.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here