BJP announces regional presidents, party expresses confidence in many old faces | भाजपा ने क्षेत्रीय अध्यक्षों का किया ऐलान; कई पुराने चेहरों पर ही पार्टी ने जताया भरोसा, शेष नारायण मिश्र को अवध क्षेत्र की कमान

0
52
.

लखनऊ12 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी में भारतीय जनता पार्टी ने नए क्षेत्रिय अध्यक्षों के नामों का ऐलान कर दिया है।

  • अवध व पश्चिमी क्षेत्र में नए अध्यक्ष सहित चार पुराने पर पार्टी ने जताया विश्वास
  • छह क्षेत्रीय अध्यक्षों में दो अवध और पश्चिमी क्षेत्र में नए क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाए गए

उत्तर प्रदेश भाजपा की टीम के बाद अध्यक्ष स्वतन्त्र देव सिंह ने छह दिन बाद सभी क्षेत्रीय अध्यक्ष का भी एलान कर दिया। छह क्षेत्रीय अध्यक्षों में दो अवध और पश्चिमी क्षेत्र में नए क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाए गए। वहीं अन्य चार क्षेत्रों के पूर्व के क्षेत्रीय को दोबारा बनाया गया।

गोंडा जिले के पूर्व जिलाध्यक्ष शेष नारायण मिश्र को अवध क्षेत्र का क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाया गया। पश्चिमी क्षेत्र का पूर्व में युवा मोर्चा में प्रदेश मंत्री रहे मोहित बेनीवाल को बड़ी जिम्मेदारी दी गई हैं। इसके साथ मौजूदा क्षेत्रीय अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह सैथवार को गोरखपुर का, मानवेन्द्र सिंह को कानपुर, रजनीकांत माहेश्वरी को ब्रज क्षेत्र का और महेश श्रीवास्तव को काशी क्षेत्र का क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाया गया। पार्टी ने उक्त चारों ओर दोबारा विश्वास जताते हुए पुनः जिम्मेदारी दी हैं।

6 दिनों पहले स्वतंत्रदेव सिंह ने की थी प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने आखिरकार लगभग सात महीने के बाद अपनी टीम यानी प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा की है। इस टीम में ज्यादातर पुराने चेहरों पर ही दांव लगाया गया है। एक तरफ जहां रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के बेटे और नोएडा से विधायक पंकज सिंह को जगह मिली है वहीं दूसरी और संगठन में जातीय समीकरण को भी साधने की पूरी कोशिश की गई है।

तकरीबन 7 महीने पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर स्वतंत्र देव सिंह ने संगठन की कमान संभाली थी। तभी से कयास लगाए जा रहे थे कि जल्द ही कार्यकारिणी का गठन होगा। हालांकि नए अध्यक्ष के सामने कार्यकारिणी में किसे जगह दें किसे न दें, इसको लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई थी। अब उन्होंने भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी का एलान कर दिया है। जिसमे 16 प्रदेश उपाध्यक्ष, 7 प्रदेश महामंत्री, 16 प्रदेश मंत्री और 2 कोषाध्यक्ष को जगह दी गई थी।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here