Sushant Case: 4 witnesses have described how Sushant Singh Rajput spent his last few hours to CBI – 4 गवाहों ने CBI को बताया सुशांत सिंह राजपूत ने कैसे बिताए जिंदगी के आखिरी चंद घंटे : सूत्र

0
46
.

सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत के चार करीबी लोगों से की पूछताछ (फाइल फोटो)

मुंबई:

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले (Sushant Singh Rajput Death) में जांच कर रही सीबीआई सुशांत के करीबियों से पूछताछ कर रही है. इस दौरान, चार प्रमुख प्रत्यक्षदर्शियों ने यह बताया कि सुशांत ने अपने जीवन के अंतिम चंद घंटे कैसे व्यतीत किए. ये चारों लोग सुशांत सिंह राजपूत के साथ उनके बांद्रा वाले घर में रहते थे, जहां 14 जून को वह मृत पाए गए थे. ये गवाह हैं सुशांत सिंह राजपूत के फ्लैट-मेट सिद्धार्थ पिठानी, उनके सहायक नीरज, कुक केशव और नौकर दीपेश सावंत.  

यह भी पढ़ें

कई घंटों की पूछताछ के बाद उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के आखिरी दिन की जानकारी दी. सिद्धार्थ पिठानी और नीरज से कई बार पूछताछ की गई है. सूत्रों ने बताया कि चारों ने मुंबई पुलिस के साथ-साथ सीबीआई को बताया है कि 13 जून की रात से अगली सुबह तक सुशांत सिंह राजपूत ने अपना अधिकांश समय बंद कमरे में गुजारा. 

दीपक सावंत 14 जून को घर में उठने वाला सबसे पहला व्यक्ति था. सीबीआई की पूछताछ में कथित तौर पर उसने बताया कि जब उसने एक रात पहले सुशांत से डिनर के लिए पूछा तो उन्होंने मना कर दिया और मैंगो शेक लाने के लिए कहा. सावंत के मुताबिक, सुशांत ने कहा, “तुम लोग जाओ और खाना खाओ.” 

सावंत का दावा है कि उसने अपने खाना खाया और अपने मोबाइल पर फिल्म देखने लगा. सावंत ने जांचकर्ताओं को बताया कि रात करीब 10.30 बजे जब उसने सुशांत सिंह राजपूत को फोन किया था, तो कोई जवाब नहीं आया. उसे लगा सुशांत सो गया है. 

सावंत ने कहा कि वह 14 जून यानी अगले दिन वह सुबह साढ़े 5 बजे उठा और रोजाना के काम खत्म किए. करीब एक घंटे बाद वह सुशांत के कमरे में जाने के लिए सीढ़ियों पर गया. जब उसने दरवाजा खटखटाया तो पाया कि सुशांत सिंह पहले से ही जाग रहे थे और बेड पर बैठे थे. सावंत के मुताबिक, उसने चाय के लिए पूछा लेकिन उन्होंने चाय और नाश्ते के लिए मना कर दिया. 

केशव और नीरज सुबह करीब 7 बजे उठे. सूत्रों के मुताबिक, नीरज ने सीबीआई को बताया कि उसने 8 से 8.15 के बीच सर (सुशांत) को बुलाया. वह सीढ़ियों पर आए और ठंडा पानी लाने के लिए कहा. उसने जांचकर्ताओं को बताया कि एक घंटे बाद, केशव सुशांत के कमरे में अनार का जूस और नारियल पानी देने गया. उस समय करीब 9 बजकर 15 मिनट हो रहे थे. यह आखिरी समय तब जब उसने सुशांत को देखा. 

केशव ने सीबीआई को बताया कि जब वह सुशांत सर के कमरे में यह पूछने गया कि लंच के लिए क्या बनेगा, तो दरवाजा था, जो कि असामान्य था. उसने इसकी जानकारी सिद्धार्थ पिठानी को दी. क्रिएटिव आर्ट डायरेक्टर सिद्धार्थ पिठानी उन चारों लोगों में सुशांत सिंह के सबसे ज्यादा करीब थे. 

वीडियो: सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती से पूछताछ

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here