Bridge Collapse in Madhya Pradesh Before Inauguration Video Viral – भ्रष्टाचार का नायाब नमूना: करोड़ों की लागत से बना पुल उद्घाटन से पहले नदी में बहा

0
173
.

एक महीने पहले लोगों ने बगैर उद्घाटन ही पुल का उपयोग शुरू कर दिया था

सिवनी:

मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में भ्रष्टाचार का नायाब नमूना देखने को मिला. करोड़ों की लागत से बना पुल उद्घाटन से पहले ही नदी में बह गया. मध्य प्रदेश में भारी बारिश के बीच सिवनी जिले के सुनवारा गांव में वैनगंगा नदी पर स्थित करोड़ों रुपए की लागत से बना पुल पानी में बह गया है. हैरान करने वाली बात है कि यह पुल लगभग एक महीने पहले ही शुरू हुआ था. अभी इसका औपचारिक उद्घाटन भी नहीं हुआ था. लोगों ने उद्घाटन से पहले ही इसका इस्तेमाल शुरू कर दिया था. टूटे हुए पुल का एक वीडियो भी सामने आया है. जहां नदी का बढ़े हुए जल स्तर के बीच टूटा हुआ पुल भी नजर आ रहा है. 

यह भी पढ़ें

यह भी पढ़ें: जम्‍मू में भारी बारिश के बाद पुल का बड़ा हिस्‍सा पानी में बहा, देखें VIDEO

दस्तावेजों के अनुसार यह पुल 3 करोड़ 7 लाख रुपये ंमें बनकर तैयार हुआ था. पुल निर्माण का कार्य 1 सितंबर 2018 को शुरू हुआ था. निर्माण पूर्ण होने की तय तारीख 30 अगस्त तय की गई थी. पुल इससे पहले ही बनकर तैयार भी हो गया था और गांव के लोग करीब एक महीने से इसका इस्तेमाल भी कर रहे हैं, लेकिन इससे पहले कि इसका उद्घाटन होता. 29-30 की दरम्यानी रात पुल ने जलसमाधि ले ली वहीं इस घटना पर कलेक्टर राहुल हरिदास का कहना है कि हमने जांच के आदेश दे दिये हैं, जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे. 

566ef03

गौरतलब है कि यह पुल सिवनी की केवलारी विधानसभा के अंतर्गत आता है. जिसके विधायक बीजेपी के राकेश पाल हैं.अब देखना यह है कि पुल निर्माण एजेंसी पर प्रशासन के द्वारा क्या कार्रवाई की जाती है. फिलहाल इलाके का संपर्क टूट गया है जिससे लोगों को आने जाने में परेशानी हो रही है. 

यह भी पढ़ें: कैमरे में कैद : हिमाचल में देखते-देखते बह गया पुल, तीन लोग डूबे

वैनगंगा नदी पर यह पुल सुनवारा और भीमगढ़ ग्राम को जोड़ता था. मध्य प्रदेश में लगातार हो रही बारिश ने अब आफत का रूप ले लिया है. प्रदेश में भारी बारिश के चलते राज्य की कई नदियां उफान पर है. प्रदेश के लगभग सभी बांधों के गेट खोल दिए गए हैं. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के 9 जिलों के 394 से ज्यादा गांवों में भीषण बाढ़ आई है. बाढ़ में फंसे 7 हजार से अधिक लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया. सीएम ने बताया कि  बाढ़ राहत के लिए बड़ी संख्या में राहत शिविर बनाए गए हैं जहां पर रूकने, भोजन, दवाओं आदि सभी आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here