Lucknow Kabir Math Administrative Officer Murder case Latest News Updates: One Shooter Arrested After Encounter In Lucknow Uttar Pradesh | क्रॉस फायरिंग में गोली लगने के बाद 25 हजार का इनामी गिरफ्तार; कबीर मठ के प्रशासनिक अधिकारी की हत्या में था शामिल

0
36
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Lucknow Kabir Math Administrative Officer Murder Case Latest News Updates: One Shooter Arrested After Encounter In Lucknow Uttar Pradesh

लखनऊ22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

लखनऊ में क्राइम ब्रांच की टीम व घायल बदमाश।

  • क्राइम ब्रांच व मड़ियांव पुलिस के साथ घैला पुल के पास हुई मुठभेड़
  • बदमाश को ट्रामा सेंटर में इलाज के लिए कराया गया भर्ती

राजधानी लखनऊ में कबीर मठ के प्रशासनिक अधिकारी की हत्या करने के बाद फरार चल रहे 25 हजार के शातिर बदमाश जितेंद्र सिंह उर्फ जीतू उर्फ जीतेश को शनिवार देर रात क्राइम ब्रांच और मड़ियांव पुलिस ने घैलापुल के पास मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया। क्रॉस फायरिंग में पुलिस की गोली लगने से जितेंद सिंह घायल हो गया, उसे ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। उसके कब्जे से एक तमंचा बरामद हुआ है।

घटनास्थल पर पड़ा बदमाश का तमंचा।

घटनास्थल पर पड़ा बदमाश का तमंचा।

डीसीपी नार्थ शालिनी के मुताबिक, क्राइम ब्रांच टीम को सूचना मिली थी कि जितेंद्र और उसका साथी बाइक से मड़ियांव की ओर जा रहे हैं। जिसके बाद मड़ियांव पुलिस से सपंर्क साधा गया। घैला पुल के पास बाइक सवार जितेंद्र और उसके साथी को रोकने का प्रयास किया गया, लेकिन आरोपी ने फायर कर दिया। जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में जितेंद्र घायल हुआ, जबकि उसका साथी चकमा देकर फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक, उस पर हरदोई और सीतापुर में भी कई मुकदमे दर्ज हैं।

दो आरोपी पहले पकड़े गए थे
हसनगंज थाना क्षेत्र के डालीगंज में कबीर मठ है। यहां धार्मिक और अन्य समारोह आयोजित होते हैं। जिसके लिए मठ को बुक किया जाता है। बीते 24 अगस्त सोमवार की सुबह दो लोग बुकिंग कराने आए थे। बात करते-करते एक ने प्रशासनिक अधिकारी धीरेंद्र दास को गोली मार दी थी। इसके बाद दोनों फरार हो गए थे। 26 अगस्त को धीरेंद्र दास की मौत हो गई थी। पुलिस ने हत्याकांड की साजिश में शामिल 2 लोग सुधीर पांडे, आलोक वर्मा को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में पता चला था कि तीन अन्य बदमाशों के साथ मिलकर उन लोगों ने हत्याकांड की साजिश रची थी।

साजिशकर्ताओं ने शूटर से करवाया था हमला

फिलहाल पुलिस टीम को सीसीटीवी में कुछ खास सुराग हाथ नहीं लगा था। पुलिस के पूछताछ में पकड़े गए दोनों आरोपियों ने बताया था कि शूटर से हमला करवाया था। एडीसीपी उत्तरी राकेश श्रीवास्तव का कहना है कि, कबीर मठ के अधिकारी धीरेंद्र दास की हत्या पैसों के लेन देन में की गई थी। धीरेंद्र के साथी ने हत्या कराई थी।

पहले भी हो चुका था हमला

साल 2015 में भी कबीर मठ के धीरेंद्र दास प्रशासनिक अधिकारी पर गोली चली थी। उस समय की जांच में आपसी मामला पाया गया था। इस मामले में पुलिस को आपसी रंजिश का मामला सामने आया था।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here