Mukesh Ambani Acquires Big Bazaar and FBB Big Bazaar और FBB भी हुआ अंबानी का, 24,713 में खरीदा

0
71
.

मुंबई:

देश के सबसे धनी कारोबारी मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के स्वामित्व वाली आरआईएल की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने फ्यूचर समूह के खुदरा और थोक कारोबार तथा लॉजिस्टिक्स और भंडारण कारोबार के अधिग्रहण की घोषणा की है. इस सौदे के जरिए रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) का अधिग्रहण करेगी, जो बिग बाजार की मालिक है और किराना सामान से लेकर सौदर्य प्रसाधन और परिधान तक सभी तरह के उत्पादों की बिक्री करती है. इसके अलावा फ्यूचर लाइफस्टाइल फैशंस का अधिग्रहण भी किया जाएगा. हालांकि, फ्यूचर समूह के वित्तीय एवं बीमा कारोबार इस सौदे का हिस्सा नहीं हैं.

यह भी पढ़ेंः Unlock-4 : स्कूल जा सकेंगे क्लास 9-12 के छात्र, हालांकि पैरेंट्स राजी नहीं

24,713 करोड़ में अधिग्रहण
कंपनी द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर लिमिटेड (आरआरवीएल) ने फ्यूचर समूह के खुदरा और थोक कारोबार तथा लॉजिस्टिक्स और भंडारण कारोबार के एकमुश्त 24,713 करोड़ रुपये के दाम में अधिग्रहण की घोषणा की.’ आरआरवीएल ने कहा कि इस अधिग्रहण योजना के तहत फ्यूचर समूह अपनी कुछ कंपनियों का विलय फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एफईएल) में कर रहा है.

यह भी पढ़ेंः श्रीनगर एनकाउंटर: सुरक्षाबलों ने 3 आतंकी मारे, 1 जवान शहीद

अमेजन की हिस्सेदारी पर प्रश्नचिन्ह
अंबानी की कंपनी ने फ्यूचर रिटेल और फ्यूचर लाइफस्टाइल फैशंस में पूरी प्रवर्तक हिस्सेदारी खरीद ली है, लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं है कि फ्यूचर में अमेजन की हिस्सेदारी का क्या होता है. पिछले साल अगस्त में सिएटल स्थित अमेजन ने फ्यूचर कूपन्स लिमिटेड की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदकर फ्यूचर रिटेल में अप्रत्यक्ष रूप से 1.3 प्रतिशत हिस्सेदारी ली थी. यह साझेदारी इस साल जनवरी में गहरी हुई, जब अमेजन फ्यूचर रिटेल के स्टोर के लिए अधिकृत ऑनलाइन बिक्री चैनल बन गया.

यह भी पढ़ेंः चीन-पाकिस्तान को फिर दिखाया भारत ने आईना, रूस को भी दिए संकेत

रिलायंस को देना पड़ेगा खुला प्रस्ताव
रिलायंस को फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड के अल्पसंख्यक शेयरधारकों से 26 प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने के लिए एक खुला प्रस्ताव देना पड़ सकता है. किशोर बियानी की अगुवाई वाले फ्यूचर समूह ने शेयर बाजार को दी जानकारी में इस सौदे की पुष्टि की है. फ्यूचर रिटेल 1,550 स्टोर का संचालन करता है और इसके प्रमुख ब्रांडों में बिग बाजार, एफबीबी, फूडहॉल, ईजीडे, हेरिटेज फ्रेश और डब्ल्यूएचस्मिथ हैं. फ्यूचर लाइफस्टाइल फैशन 354 स्टोर का संचालन करता है.

यह भी पढ़ेंः नहीं चलेगी राज्यों की मनमानी, सरकार से लॉकडाउन लगाने को लेनी होगी इजाजत

रिटेल की जंग होगी तेज
रिलायंस और फ्यूचर रिटेल के इस सौदे से भारत के रिटेल सेक्टर में जंग तेज होगी. यहां अमेजन ने पहले ही 5.5 अरब अमरीकी डालर के निवेश का वादा किया है, जबकि वॉलमार्ट ने 2018 में 16 अरब अमरीकी डालर में ई-कॉमर्स दिग्गज फ्लिपकार्ट को खरीदा. विज्ञप्ति के मुताबिक आरआरएफएलएल विलय के बाद एफईएल में 6.09 प्रतिशत इक्विटी शेयर के अधिग्रहण के लिए 1,200 करोड़ रुपये निवेश करेगी. ये निवेश इक्विटी शेयरों के तरजीही निर्गम के जरिए किया जाएगा. इसके अलावा 400 करोड़ रुपये तरजीही आधार पर जारी शेयर वारंट में लगाए.


Read full story

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here