खराब ब्लड सर्कुलेशन के ये हैं 8 गंभीर संकेत, समझ लें चेतावनी | health – News in Hindi

0
53
.

शरीर के लिए सही ब्लड सर्कुलेशन (Blood Circulation) महत्वपूर्ण है. सर्कुलेटरी सिस्टम शरीर के विभिन्न भागों में रक्त, ऑक्सीजन (Oxygen) और पोषक तत्व भेजने के लिए जिम्मेदार है. जब इसमें खराबी होती है, तो शरीर में कोशिकाएं ऑक्सीजन और पोषक तत्व पाने में असमर्थ हो जाती हैं, जो उन्हें स्वस्थ रखने के लिए आवश्यक होती हैं. खराब ब्लड सर्कुलेशन के कुछ सामान्य कारणों में एथेरोस्क्लेरोसिस (रक्त वाहिकाओं में प्लाक का निर्माण), डायबिटीज, खून के थक्के, अधिक वजन होना, हाई ब्लडप्रेशर, गतिहीन जीवन शैली और धूम्रपान शामिल हैं. ब्लड सर्कुलेशन में गड़बड़ी के आम लक्षणों में ये शामिल हैं-

भूख में कमी

पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने के लिए शरीर को एक अच्छी रक्त आपूर्ति की आवश्यकता होती है. खराब ब्लड सर्कुलेशन से भूख की कमी और मेटाबॉलिक रेट कम हो सकता है.खराब याद्दाश्त

खराब याद्दाश्त और ध्यान केंद्रित करने में असमर्थता भी खराब ब्लड सर्कुलेशन के संकेत हो सकते हैं.

सुन्न होना

यह आमतौर पर हाथों, टांगों, पैर के पंजे, बाजुओं में होता है. यह इन क्षेत्रों में ब्लॉकेज के परिणामस्वरूप होता है.

ठंडे हाथ और पैर

हाथ-पांव फूलना खराब ब्लड सर्कुलेशन का संकेत हो सकते हैं. ऐसा तब होता है जब वे हिस्से जो हृदय से सबसे दूर होते हैं, उन्हें गर्मी देने के लिए पर्याप्त रक्त नहीं मिलता है.

कब्ज की शिकायत

शरीर में कोशिकाओं को रक्त की आपूर्ति में कमी से पाचन संबंधी समस्याएं जैसे दस्त, बार-बार पेट में दर्द, कब्ज आदि हो सकती हैं.

सुस्ती

थका हुआ शरीर या थका हुआ महसूस करना अंगों और मांसपेशियों को ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की अपर्याप्त आपूर्ति के कारण हो सकता है.

कमजोर इम्यून सिस्टम

क्या अक्सर बीमार रहते हैं? यदि हां, तो यह खराब ब्लड सर्कुलेशन का संकेत हो सकता है. जब सर्कुलेटरी सिस्टम में खराबी होती है, तो यह बीमारियों से लड़ने में असमर्थ हो जाता है.

वैरिकोज वेंस

खराब सर्कुलेशन नसों पर दबाव डाल सकता है, जिससे वैरिकोज वेन्स का कारण बनता है. myUpchar से जुड़े एम्स के डॉ. नबी वली का कहना है कि वैरिकोज वेन्स बड़ी, क्षतिग्रस्त और सूजी हुई नसें होती हैं जो अक्सर पैरों और पैरों के पंजे पर दिखाई देती हैं. लंबे समय के लिए एक ही स्थिति में रहते हैं तो रक्त प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता है, जिससे वैरिकोज वेन्स हो सकता है.

ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने के लिए करें ये काम

myUpchar से जुड़ीं डॉ. मेधावी अग्रवाल का कहना है कि ब्लड सर्कुलेशन सही तरीके से काम नहीं करेगा तो स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है. ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने और सुधारने के लिए कई तरीकों की मदद ले सकते हैं

·        व्यायाम सबसे बेहतरीन तरीका है ब्लड सर्कुलेशन में सुधार लाने का. जिस एक्टिविटी में हृदय और तेजी से रक्त को पम्प करता है उससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में मदद मिलती है. इसलिए दौड़ना या जॉगिंग, डांसिंग, साइकिलिंग आदि नियमित रूप से करें.

·        पर्याप्त पानी पीने से शरीर के अंग अच्छे से काम करते हैं और रक्त संचार बेहतर होता है.

·        मसाज से भी ब्लड सर्कुलेशन सुधारने में मदद मिलती है. बॉडी मसाज के लिए नारियल तेल, जैतून का तेल और बादाम के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. हालांकि, मसाज करवाने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें.

·        आहार इसके लिए बहुत महत्वपूर्ण है. फल, हरी सब्जियां, अनाज, प्रोटीन और स्वस्थ वसा खाएं. सैचुरेटेड फैट से दूरी बनाएं.

·        एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध ग्रीन टी कई लाभ देती है और उनमें से एक शरीर का रक्त संचार बेहतर करना भी शामिल है.

·        कितने भी उपाय अपना लो लेकिन तनाव में रहे तो सारे प्रयास निरर्थक हैं. तनाव का स्तर स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है. इससे शरीर का ब्लड सर्कुलेशन ठीक से नहीं हो पाता है. तनाव मुक्त होने की हर संभव कोशिश करें.

·        नमक कम खाएं, ताकि इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ सके. ज्यादा नमक ब्लड प्रेशर बढ़ाता है और इसका प्रभाव ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है. ज्यादा नमक खाने से धमनियां कठोर हो जाती हैं और शरीर में रक्त प्रवाह रुक जाता है.अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, ब्लड सर्कुलेशन धीमा होने के कारण और बढ़ाने के उपाय पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here