RIP Pranab Mukherjee; Lalji Tandon made Machi Bhat for former President Of India – Says UP Senior Journalist Pradeep Kapoor | जब लालजी टंडन ने पूर्व राष्ट्रपति के लिए बनवाया था मच्छी भात, सेवा सत्कार से खुश हुए थे प्रणव दा

0
123
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • RIP Pranab Mukherjee; Lalji Tandon Made Machi Bhat For Former President Of India Says UP Senior Journalist Pradeep Kapoor

लखनऊएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मध्य प्रदेश के गवर्नर रहे लालजी टंडन ने लखनऊ पर किताब लिखी थी। पूर्व राष्ट्रपति से मुलाकात के वक्त उन्होंने अपनी किताब भेंट की थी।

  • सोमवार की शाम दिल्ली में प्रणव मुखर्जी का हुआ निधन
  • प्रणब मुखर्जी को 2019 में देश के सबसे बड़े सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया था

भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का सोमवार को निधन हो गया। 10 दिन पहले उन्हें कोरोना हुआ था। यूपी के सीनियर जर्नलिस्ट प्रदीप कपूर ने बताया कि उनका लखनऊ में एक ही दौरा हुआ। तब वे प्रेसिडेंट इलेक्शन के लिए वह सहयोगी पार्टियों के प्रमुख से मिलने लखनऊ पहुंचे थे। हालांकि अभी हाल ही में एमपी के राज्यपाल लालजी टंडन का भी निधन हुआ है। उससे पहले उन्होंने प्रणव मुखर्जी का एक किस्सा शेयर किया था।

प्रोटोकाल तोड़ कर प्रणव दा से की थी मुलाकात

प्रदीप कपूर बताते है कि जनवरी 2019 में पटना यूनिवर्सिटी का दीक्षांत समारोह था। प्रणव मुखर्जी को मुख्य अतिथि बनाया गया था। उस समय वह राष्ट्रपति पद से हट चुके थे इसलिए उनका कोई प्रोटोकॉल नही होता था। यदि राजभवन में वह आये है तो उन्हें खुद राज्यपाल के कमरे में जाकर मिलना होगा। ऐसा प्रोटोकॉल कहता है। लेकिन इसके इतर जैसे ही बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन को इसकी खबर मिली वह खुद पोर्च तक पहुंचे और उनका स्वागत किया। इससे प्रणव मुखर्जी बहुत खुश भी हुए।

एक गाड़ी में गए यूनिवर्सिटी, सुरक्षाकर्मियों को गाड़ी से हटाया

यही नही लालजी टंडन और प्रणव मुखर्जी को अगली सुबह जब पटना यूनिवर्सिटी निकलना हुआ तब भी लालजी टंडन ने प्रोटोकॉल तोड़ा और प्रणव मुखर्जी को अपनी गाड़ी में बिठाया। सुरक्षाकर्मियों ने मना भी किया लेकिन उन्होंने सख्त लहजे में सबको समझा दिया। जिसके बाद दोनों पटना यूनिवर्सिटी साथ पहुंचे।

शाम को प्रणव दा के लिए बनवाया गया मच्छी भात

प्रदीप कपूर कहते है कि लालजी टंडन मेहमाननवाजी में बहुत ही अच्छे थे। वह हमेशा अपने आवास पर सबको दावत पर बुलाया करते थे। यही नही कभी कभार खुद खाना भी बनाया करते थे। टंडन बहुत ही लजीज नॉनवेज पकाते थे। उसी तरह राजभवन में जब शाम हुई तो प्रणव मुखर्जी के लिए स्पेशल उन्होंने मच्छी भात बनवाया। जिसे खाकर वह बहुत खुश हुए। यही नही उनकी मेहमाननवाजी की उन्होंने तारीफ भी खूब की थी।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here