अनन्त चतुर्दशी के पावन अवसर पर प्रदेश में 13 नई बीएसएल 2 प्रयोगशालाओं का लोकार्पण किया

0
70
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राज्य में 13 नई बायोसेफ्टी सेकेण्ड जेनरेशन (बीएसएल-2) प्रयोगशालाओं का लोकार्पण किया। बता दें कि इनमें से 10 प्रयोगशालाएं प्रदेश के विभिन्न राजकीय मेडिकल कॉलेजों तथा 3 प्रयोगशालाएं निजी मेडिकल कॉलेजों में स्थापित की गई हैं। राजकीय मेडिकल कॉलेजों में स्थापित प्रयोगशालाएं-जनपद जालौन, आजमगढ़, अम्बेडकरनगर, सहारनपुर, बस्ती बहराइच, फिरोजाबाद, अयोध्या, बांदा तथा बदांयू के मेडिकल कॉलेजों में तथा निजी मेडिकल कॉलेजों में स्थापित लैब्स-जी0एस0 मेडिकल कॉलेज हापुड़, मेयो इन्स्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, बाराबंकी तथा तीर्थांकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद के मेडिकल कॉलेज में स्थापित की गई हैं। इन प्रयोगशालाओं द्वारा निरन्तर कार्य करते हुए प्रतिदिन लगभग 05 हजार टेस्ट सम्पन्न किए जा सकेंगे।

महाराजगंज: पुलिस ने किया सैक्स रैकेट का भंडाफोड़, आपत्तिजनक वस्तुएं भी बरामद 

कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी ने अयोध्या, बस्ती, बांदा, सहारनपुर, आजमगढ़ के मेडिकल कॉलेजों तथा मुरादाबाद में निजी क्षेत्र में स्थापित तीर्थांकर महावीर यूनिवर्सिटी में स्थापित प्रयोगशालाओं के प्रतिनिधियों से संवाद किया। उन्होंने प्रयोगशालाओं में प्रशिक्षित व कुशल मैनपावर की व्यवस्था करने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रयोगशालाओं में जितने कुशल और प्रशिक्षित टेक्नीशियन कार्य करेंगे, कोविड-19 के विरुद्ध संघर्ष उतना ही प्रभावी और सफल होगा। उन्होंने कहा कि प्रयोगशालाओं द्वारा लगातार कार्य करके अधिक से अधिक टेस्ट पूरी पारदर्शिता व गुणवत्तापूर्ण ढंग से सम्पन्न किए जाएं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उद्यमियों से करेंगे वर्चुअल संवाद, जानिए पूरी खबर

उन्होंने अनन्त चतुर्दशी के पावन पर्व पर 13 बीएसएल-2 प्रयोगशालाओं के शुभारम्भ की प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि कोविड-19 एक वैश्विक महामारी है। उनके द्वारा कहा गया कि जब तक कोविड-19 की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती, तब तक अधिक से अधिक टेस्टिंग ही इसके विरुद्ध सबसे बड़ा हथियार है। टेस्टिंग के माध्यम से कोविड-19 की चेन को नियंत्रित करके व्यापक पैमाने पर जीवन रक्षा की जा सकती है।

योगी सरकार को सभी पत्रकारों को देना चाहिए बीमा कवर की सुविधा: प्रियंका गांधी

सीएम योगी ने कहा कि कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए इससे 5 श्रेणियों के लोगों-अधिक उम्र, कोमार्बिडिटी, कम इम्युनिटी, गर्भवती महिलाओं तथा बच्चों को सुरक्षित रखने के साथ-साथ शेष लोगों में संक्रमण की स्थिति में समुचित उपचार उपलब्ध कराने की जरूरत है। इससे कोविड-19 से होने वाली जनहानि पर प्रभावी नियंत्रण लगाया जा सकता है।

 

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here