Caste Politics In Uttar Pradesh; Aam Aadmi Party Mp Sanjay Singh Started Caste Survey In UP | योगी पर ठाकुरवादी होने का आरोप लगाकर लोगों से मांगी राय; एफआईआर दर्ज होने पर संजय सिंह बोले- रिजल्ट तो आने देते

0
60
.

लखनऊ16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी संजय सिंह।

  • मंगलवार को लोगों के पास योगी सरकार पर जातिवादी होने संबंधी आए फोन कॉल
  • लोगों से जातिवादी होने संबंधी पूछे गए सवाल-जवाब, हजरतगंज थाने में एफआईआर दर्ज

उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी ने जातिगत सर्वे शुरू किया है। 24 घंटे में लाखों लोगों के पास इंटरनेट वॉयस कमांड वाले फोन कॉल आए। लोगों से पूछा गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सिर्फ ठाकुरों के लिए काम कर रहे हैं। जवाब गोपनीय रखने का दावा किया गया। मामला शासन तक पहुंचा तो अज्ञात के खिलाफ लखनऊ के हजरतगंज थाने में आईटी एक्ट और जातिगत भावना भड़काने (501-ए) के तहत मामला दर्ज किया है। यह सर्वे 744717843 नंबर से कॉल कर किया जा रहा था। बुधवार को आप यूपी प्रभारी संजय सिंह ने सर्वे की जिम्मेदारी ली है। कहा कि, आप (सीएम योगी) मुकदमे कराते रहिए मैं अपना काम करता रहूंगा।

सर्वे में किस तरह का सवाल

फोन कॉल में लोगों को बताया कि हम उत्तर प्रदेश की वर्तमान राजनीति पर एक सर्वे कर रहे हैं। सर्वे में दिया गया जवाब गोपनीय रखा जाएगा। उत्तर प्रदेश के कई लोग अब कहने लगे हैं कि जैसे अखिलेश यादव ने यादव समाज के लिए काम किया, मायावती ने जादव समाज के लिए काम किया वैसे ही योगी आदित्यनाथ सिर्फ ठाकुरों के लिए काम कर रहे हैं। यदि सहमत हैं तो एक दबाइए और नहीं है तो दो दबाइए।

संजय सिंह ने वीडियो जारी कर सर्वे की जिम्मेदारी ली

संजय सिंह ने वीडियो जारी कर कहा कि, उत्तर प्रदेश सरकार ने मेरे ऊपर एक और मुकदमा दर्ज कराया है। यूपी में ब्राह्मणों की हत्या कराना अपराध नहीं है। दलितों का अपराध करना अपराध नहीं है। लेकिन, योगी सरकार जातिवादी है या नहीं यह राय लेना अपराध है। मैंने यह सर्वे कराया कि यह सरकार जातिवादी है या नहीं? यह राय जानना अपराध है। यदि आप मानते हैं जातिवादी है तो एक दबाइए, नहीं है तो दो दबाइए। जनता की राय जानने से पहले सर्वे का रिजल्ट आने से पहले सरकार ने एक और मुकदमा दर्ज करा दिया।

संजय सिंह ने कहा कि, उत्तर प्रदेश में दलितों, शोषितों, ब्राह्मणों के साथ अत्याचार हो रहा है। भाजपा विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल और देवमणि ने जातिवादी होने का आरोप लगाया। अगर जातिवादी नहीं है तो बड़े पैमाने पर यह सर्वे होने देना चाहिए। मुकदमे क्यों लिखा रहे हो डर क्यों रहे हो? जनता के टैक्स के पैसे को जांच के नाम पर बर्बाद मत कीजिए। जो भी जानकारी हासिल करनी हो पूछताछ करनी हो मैं एक एक सवाल का जवाब दूंगा। आप मुकदमे कराते रहिए मैं अपना काम करता रहूंगा।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा- संजय सिंह ने डर के मारे लिया सर्वे का जिम्मा

भाजपा प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने संजय सिंह पर निशाना साधा है। कहा कि, संजय सिंह ने सर्वे का जिम्मा डर वश लिया है। क्योंकि उन्हें पता था कि मुकदमे की जांच में उनका नाम सामने आना ही है। वे पहले भी कई बार माफी मांग चुके हैं। कहा कि, यूपी में डबल इंजन की सरकार में विकास की नई इबारत लिखी है। विकास को समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचाया है। हम विकास कर रहे हैं। इसलिए दूसरी पार्टियां जाति को बीच में ला रही हैं। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि हिंदुओं को अलग अलग करके विपक्षी पार्टियां क्यों देखती हैं? क्या मुसलमान में शिया और सुन्नी की अलग अलग स्थिति जानने के लिए कभी कोई सर्वे किया?

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here