Varanasi; UP Samajwadi Party Workers Led By Former Councilor Ravikant Vishwakarma Protest Against Chinese Manjha | बांह पर काली पट्टी बांधकर सपा कार्यकर्ताओं ने चाइनीज मांझे पर प्रतिबंध लगाने की मांग की, 4 दिन पहले यहां एक बच्ची की गई थी जान

0
40
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Varanasi; UP Samajwadi Party Workers Led By Former Councilor Ravikant Vishwakarma Protest Against Chinese Manjha

वाराणसी13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वाराणसी में जिला मुख्यालय चाइनीज मांझे के विरोध में प्रदर्शन करते सपा कार्यकर्ता।

  • बच्ची की मौत के मामले में सियारी रंग लिया
  • जिला प्रशासन से चाइनीज मांझे पर प्रतिबंध के लिए डीएम को सौंपा ज्ञापन

उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में बीते शनिवार को चाइनीज मांझा के चपेट में आने से सात साल की बच्ची की मौत हो गई थी। इस मामले को लेकर बुधवार को पूर्व पार्षद रविकांत विश्वकर्मा के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। सपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश में चाइनीज मांझा पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग की। लोगों ने कहा कि, वाराणसी ही नहीं पूरे देश में चाइनीज मांझे से तमाम लोगों की जान गई है।

डीएम को सौंपा ज्ञापन, जनता से सहयोग की अपील

रविकांत विश्वकर्मा ने बताया कि चीनी मांझा लगातार मौत का कारण बन रहा है। इसके परिणाम स्वरूप पिता के साथ लौट रही मासूम बच्ची कृतिका असमय ही काल के गाल में समा गयी। इसके खिलाफ कई सामाजिक संगठन अपना-अपना विरोध दर्ज कराते आ रहे हैं। लेकिन आज भी खुले आम चीनी मांझा की बिक्री हो रही है। समाजवादी पार्टी के लोगों ने बांह पर काली पट्टी बांधकर अपना विरोध दर्ज कराते हुए जिलाधिकारी को संबोधित एक ज्ञापन भी दिया। रविकांत ने जनता से अपील की कि यदि आप लोग चीनी मांझा के विरोध में साथ देना चाहते हैं तो आज ही से जब भी अपने घरों के बाहर निकलें तो बांह पर काली पट्टी बांधकर विरोध दर्ज कराएं।

इसलिए सपा ने किया विरोध प्रदर्शन

शनिवार को चौकाघाट निवासी संदीप गुप्ता चाइनीज मांझे की चपेट में आ गए। साथ में उनकी सात साल की बेटी कृतिका की मौत हो गई। संदीप पांडेयपुर से बेटी को दवा दिलाकर शनिवार की शाम घर लौट रहे थे। पांडेयपुर फ्लाईओवर पर कृतिका की गर्दन पर चाइनीज मांझा आ गया। गर्दन कटने के बाद कृतिका छटपटाने लगी। संदीप आनन-फानन में कृतिका को लेकर सिंह मेडिकल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कृतिका परिवार में दो बहनों में बड़ी थी। छोटा भाई एक साल का है। पिता की घौसाबाद में ऑटो पार्ट्स की दुकान है।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here