क्या आप भी खाना जल्दी-जल्दी खाते हैं? जान लें बिना चबाए खाना निगलने के ये बड़े नुकसान | health – News in Hindi

0
96
.

जल्दी खाने के नुकसान जानें ( pic courtsey: pexels/Vincenzo Giove)

तेजी से खाने से वजन बढ़ता है. पाचन प्रक्रिया मुंह में शुरू होती है और तेजी से खाना खाने से लार द्वारा भोजन को सरल शर्करा में तोड़ने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिलता है.




  • Last Updated:
    September 3, 2020, 2:37 PM IST

कई लोग खाना खाने बैठते हैं तो इतना जल्दी पूरा भोजन खत्म कर देते हैं कि देखकर ही आश्चर्य होता है. कई लोगों में तेजी से खाने की आदत होती है और वे इस बात पर गर्व करते हुए भी दिखाई देते हैं, लेकिन तेजी से खाना किसी भी मायने में सही नहीं है. वैज्ञानिक रूप से, तेजी से खाने से व्यक्ति के मानसिक, भावनात्मक और शारीरिक स्वास्थ्य में कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं और निश्चित रूप से इसे रोकने की जरूरत होती है. myUpchar के मुताबिक, ज्यादा तेजी से खाने का मतलब यह हो सकता है कि पांच मिनट से भी कम समय में नाश्ता या दोपहर का भोजन खत्म कर देते हैं. अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के एक शोध में कहा गया है कि ज्यादा तेजी से खाने का मतलब है कि मोटापा ग्रस्त होने या मेटाबॉलिज्म सिंड्रोम विकसित होने की आशंका अधिक है. ये दोनों दिल की बीमारी, मधुमेह और स्ट्रोक का खतरा बढ़ाते हैं.

तेजी से खाना खाने के नुकसान

तेजी से खाने से पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं. जब भोजन को चबाने के बजाय निगल लेते हैं या इसे आसानी से पचने वाले टुकड़ों में तोड़ने के लिए पर्याप्त रूप से चबाते नहीं हैं तो एसिडिटी और ब्लोटिंग जैसी कई पाचन समस्याओं को आमंत्रित करते हैं.

तेजी से खाने से वजन बढ़ता है. पाचन प्रक्रिया मुंह में शुरू होती है और तेजी से खाना खाने से लार द्वारा भोजन को सरल शर्करा में तोड़ने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिलता है. इससे भोजन तोड़ने के लिए पेट को अधिक एसिड रिलीज करना पड़ता है. बढ़ा हुआ एसिड भूख महसूस करवा सकता है और बदले में ज्यादा खाना खा जाते हैं. यह समय के साथ मेटाबॉलिज्म को भी धीमा कर सकता है और इससे वजन बढ़ सकता है.खास बात यह है कि मस्तिष्क को पेट भर जाने का संकेत पाने और तृप्त महसूस करने में लगभग 20 मिनट लगते हैं. भोजन को धीरे-धीरे चबाने से शरीर को यह महसूस करने के लिए पर्याप्त समय मिल जाता है कि खाना बंद करने की आवश्यकता है. यह एक और तरीका है, जिससे भूख से अधिक खाने से बच सकते हैं और वजन को नियंत्रित रख सकते हैं.

जल्दी-जल्दी खाना खाने से इंसुलिन प्रतिरोध और मधुमेह हो सकता है. फास्ट फूड खाने से होने वाले मोटापे का एक और नकारात्मक पहलू यह है कि इससे मधुमेह या इंसुलिन प्रतिरोध की आशंका बढ़ जाती है.

ये है खाने का सही तरीका

myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि भोजन करना बेहद ही आसान लगता है, लेकिन इससे जुड़ी कुछ छोटी-छोटी गलतियां बड़ी परेशानी का कारण बन सकती हैं. खाना खाते समय किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए. खाने से पहले इस बात का ख्याल रखें कि बाइट साइज यानी निवाले का आकार सही हो. खाने के छोटे-छोटे निवाले लें. इससे लार के एंजाइम्स सही तरह से भोजन में नहीं मिल पाते हैं, जिससे खाना सही तरह से नहीं पच पाता है.

खाना खाते समय दिमाग शांत रखें और खाने पर ही ध्यान दें. जल्दबाजी करने से कण श्वास नली में फंस सकता है. भोजन को निगलने से पहले लगभग 15-20 बार निवाले को चबाते रहें, ताकि भोजन छोटे टुकड़ों में टूट जाए.

खाने से पहले दो से तीन घूंट पानी पीने से मुंह और फूड पाइप चिकना हो सकता है और भोजन को तेजी से और अधिक कुशलता से पेस्ट करने में लार की मदद करता है. खाने के बाद या उसके दौरान पानी पीने से बचना चाहिए. विशेषज्ञ ब्लोटिंग को रोकने और पाचन सुधारने के लिए दो गिलास पानी पीने से पहले एक घंटे तक इंतजार करने की सलाह देते हैं. (अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, पाचन तंत्र क्या है, इसकी प्रक्रिया क्या है पढ़ें।) (न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।)

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here