Ayodhya: किसानों से मिलने जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को पुलिस ने बाराबंकी में रोका | ayodhya – News in Hindi

0
46
.

बाराबंकी में पुलिस से बहस करते अजय कुमार लल्लू

अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) अयोध्या (Ayodhya) में एयरपोर्ट और हाइवे के काम के लिए सरकार द्वारा किसानों की भूमि अधिग्रहण में हो रहे भेदभाव से नाराज थे. इसी कारण वह अयोध्या किसानों से मिलने जा रहे थे.

बाराबंकी. बाराबंकी (Barabanki) से होकर गुजरने वाले अयोध्या -लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग (Ayodhya-Lucknow National Highway) पर स्थित चौपुला चौराहे पर गुरुवार को पुलिस (Police) की काफी हलचल थी. इसकी वजह कांग्रेस (Congress) के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) की अयोध्या (Ayodhya) यात्रा थी. जैसे ही कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष की गाड़ी बाराबंकी पहुंची तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया, ताकि वह आगे न जाने पाएं.

किसानों से मिलने अयोध्या जा रहे थे लल्लू

अजय कुमार लल्लू अयोध्या में एयरपोर्ट और हाइवे के काम के लिए सरकार द्वारा किसानों की भूमि अधिग्रहण में हो रहे भेदभाव से नाराज थे. इसी कारण वह अयोध्या किसानों से मिलने जा रहे थे. जैसे ही अजय लल्लू चौपुला चौराहा पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें वहीं रोक दिया. जिससे नाराज प्रदेश अध्यक्ष की पुलिस से तीखी नोकझोंक हुई जो न्यूज18 के हमारे कैमरे में कैद हो गयी.

मुआवजे को लेकर है विवादइस दौरान प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू ने बताया कि सरकार अयोध्या जनपद में एयरपोर्ट और हाइवे के नाम पर किसानों की बेशकीमती जमीन का अधिग्रहण कर रही है और मुवावजे में जबरदस्त भेदभाव कर रही है .कहीं मुवावजे के नाम पर किसानों को 70 लाख रुपये बीघा तो कहीं किसानों को 10 लाख रुपये बीघा मुवावजा दे रही है जो भूमि अधिग्रहण कानून का खुला उल्लंघन है. आज किसानों से मिलने हम जा रहे थे मगर सरकार के इशारे पर प्रशासन ने आगे जाने नही दिया है लेकिन सरकार के इस दमनकारी नीति के आगे कांग्रेस झुकेगी नहीं. इसके लिए हम लाठी भी खायेंगे और जेल भी जाएंगे, लेकिन किसानों के साथ नाइंसाफी नही होने देंगे. सरकार द्वारा उनपर लगाए जा रहे मुकदमो के बारे में उन्होंने कहा कि राजनीति में मुकदमें इनाम और जेल घर की तरह होता है हम इससे घबराते नहीं हैं.

अयोध्या में किसानों ने किया हंगामा

उधर अयोध्या के श्रीराम एयरपोर्ट के विस्तारीकरण को लेकर जिला प्रशासन की दुश्वारियां कम नहीं हो रही है. जमीन के अधिग्रहण को लेकर किसान नाराज हैं. किसानों का आरोप है कि बगल वाले गांव जनौरा व नंदापुर के समान उन्हें मुआवजा नहीं मिल रहा है.सर्किल रेट में असमानता को लेकर किसानों ने जमीन देने से इनकार कर दिया है. उनकी लड़ाई में साथ देने के लिए कांग्रेसी और समाजवादी पार्टी ने ताल ठोक दी है. आज कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू अयोध्या के धर्मपुर गांव पहुंचने वाले थे लेकिन उन्हें बाराबंकी में ही गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि फैजाबाद कांग्रेस के कई नेताओं को नजरबंद कर दिया गया लेकिन काग्रेस के जिला अध्यक्ष अखिलेश यादव सुरक्षा को तोड़ते हुए धर्मपुर पहुंचे और वहां पीड़ित किसानों के साथ सभा की. सभा के दौरान धारा 144 का उल्लंघन हुआ ही कोविड-19 प्रोटोकाल का भी जबरदस्त उल्लंघन हुआ. हालांकि बाद में पुलिस ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव को गिरफ्तार कर लिया. मामला अयोध्या कोतवाली क्षेत्र का है जहां पर धर्मपुर गांव में कांग्रेस के साथ किसानों की सभा चल रही थी. दरअसल श्रीराम एयरपोर्ट विस्तारीकरण में 3 गांव जनोरा नंदापुर व धर्मपुर गांव की जमीनों का अधिग्रहण होना है. बताया जा रहा कि जनौरा नंदापुर के किसानों को 8 लाख पर बीघे तो धर्मपुर गांव के किसानों को मात्र ढाई लाख पर बीघे ही मुआवजा देने की बात कही जा रही है जिसको लेकर किसान आंदोलित है और एलान भी कर चुके हैं अगर सरकार जबरदस्ती उनकी जमीन का अधिग्रहण करती है तो वे आत्महत्या कर लेंगे.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here