Nishikant Kamat the director of drishyam and madari passes away | नहीं रहे ‘मदारी’ और ‘दृश्यम’ जैसी फिल्मों के 50 साल के निर्देशक निशिकांत कामत, लिवर सिरोसिस के चलते 17 दिन से अस्पताल में भर्ती थे

0
21
.

मुंबई17 दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • 31 जुलाई से हैदराबाद के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती थे कामत
  • 50 साल के कामत लिवर सिरोसिस नाम की बीमारी से पीड़ित थे

‘मदारी’, ‘रॉकी हैंडसम’ और ‘दृश्यम’ जैसी फिल्मों के निर्देशक निशिकांत कामत का निधन हो गया है। सोमवार शाम उन्होंने हैदराबाद के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली। इस बात की पुष्टि निशिकांत के दोस्त और एक्टर रितेश देशमुख ने ट्विटर पर की। उन्होंने श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, “मुझे तुम्हारी बहुत याद आएगी दोस्त निशिकांत कामत। आपकी आत्मा को शांति मिले।”

50 साल के कामत लीवर सिरोसिस नामक बीमारी से पीड़ित थे। इसी के चलते उन्हें 31 जुलाई को हैदराबाद के गचीबोवली स्थित एआईजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने पीलिया और पेट दर्द की शिकायत की थी। जांच के बाद उनमें क्रॉनिक लिवर डिजीज और कुछ और इंफेक्शन्स के बारे में पता चला था। 13 अगस्त को अस्पताल की ओर से जारी आधिकारिक स्टेटमेंट में उन्हें खतरे से बाहर बताया गया था। हालांकि, वे उस वक्त भी आईसीयू में ही डॉक्टर्स की निगरानी में थे। सोमवार को आधिकारिक बयान जारी कर अस्पताल ने उनके निधन की खबर दी।

हॉस्पिटल का आधिकारिक प्रेस नोट।

हॉस्पिटल का आधिकारिक प्रेस नोट।

चार घंटे पहले अफवाह उड़ गई थी

निशिकांत की मौत से चार घंटे पहले सोशल मीडिया पर उनके निधन की अफवाह उड़ गई थी। दरअसल, फिल्ममेकर मिलाप झावेरी ने एक ट्वीट कर उनकी मौत की खबर दी, जिसके बाद मीडिया में खबर वायरल हो गई थी। लेकिन 12 मिनट बाद उन्होंने अपने ट्वीट पर सफाई दी और लिखा, “अभी-अभी निशिकांत के साथ मौजूद एक शख्स से बात हुई। उन्होंने बताया कि अभी उनका निधन नहीं हुआ है। हालांकि, उनकी हालत गंभीर है और वे जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहे हैं।”

निशिकांत की मौत की झूठी खबर देने की वजह से मिलाप को खूब ट्रोल किया था। इसके चलते उन्होंने न केवल वह ट्वीट डिलीट किया, बल्कि अपना हैंडल से ट्विटर से हटा दिया।

निशिकांत की मौत की झूठी खबर देने की वजह से मिलाप को खूब ट्रोल किया था। इसके चलते उन्होंने न केवल वह ट्वीट डिलीट किया, बल्कि अपना हैंडल से ट्विटर से हटा दिया।

2005 में किया था निर्देशन में डेब्यू

कामत 2005 में मराठी फिल्म ‘डोंबिवली फास्ट’ से निर्देशन में डेब्यू किया था। यह फिल्म उस साल की सबसे बड़ी हिट मराठी फिल्मों में से एक थी। इस फिल्म को बेस्ट फीचर फिल्म मराठी का नेशनल अवॉर्ड भी मिला था।

‘दृश्यम’ से मिली सबसे ज्यादा शोहरत

बॉलीवुड में कामत को सबसे ज्यादा शोहरत साल 2015 में आई अजय देवगन, तबू और श्रेया सरन स्टारर फिल्म ‘दृश्यम’ ने दिलाई। बेहतरीन निर्देशक होने के साथ ही वे शानदार अभिनेता भी हैं और उन्होंने कई फिल्मों में एक्टिंग में भी हाथ आजमाए हैं।

कई फिल्मों में एक्टिंग भी की

वे हाथ आने दे, सतच्या आत घरात(मराठी), 404 एरर नॉट फाउंड, रॉकी हैंडसम, फुगे, डैडी, जुली-2, भावेश जोशी जैसी फिल्मों में अभिनय भी कर चुके हैं। इनमें से साल 2016 में आई अपनी फिल्म ‘रॉकी हैंडसम’ में उन्होंने जॉन अब्राहम के अपोजिट निगेटिव रोल निभाया था। वे आखिरी बार हर्षवर्धन कपूर स्टारर फिल्म ‘भावेश जोशी’ में नजर आए थे।

बॉलीवुड सेलेब्स ने दी श्रद्धांजलि

परेश रावल ने लिखा, “मुंबई मेरी जान बनाने वाले मरे पसंदीदा डायरेक्टर्स में से एक निशिकांत कामत ने आज हैदराबाद के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। इस तरह की सार्थक फिल्मों और यादों के लिए शुक्रिया। ओम शांति।”

अजय देवगन ने लिखा है, “निशिकांत के साथ मेरी इक्वेशन दृश्यम तक सीमित नहीं थी, जो कि उन्होंने तब्बू और मेरे साथ डायरेक्ट की थी। यह ऐसा एसोसिएशन था, जो मुझे हमेशा प्यारा रहा। वे ब्राइट थे और हमेशा स्माइल करते रहते थे। बहुत जल्दी चले गए।

जिमी शेरगिल ने लिखा, “आपकी आत्मा को शांति मिले निशिकांत कामत। आप बहुत याद आएंगे। परिवार के साथ संवेदनाएं।”

एक्ट्रेस निमृत कौर ने लिखा, “निशिकांत कामत के निधन के बारे में सुन बहुत दुख हुआ। उनके सभी परिजनों के लिए हार्दिक संवेदनाएं और प्रार्थना।”

फिल्ममेकर हंसल मेहता ने लिखा है, “वह हमें छोड़ गया। आप बहुत याद आएंगे निशि। यह साल एक डरावने सपने जैसा हो गया है, जो खत्म ही नहीं हो रहा।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here