Raebareli : 25 दिन के भीतर एक ही परिवार के दो बच्चों का अपहरण, दोनों की लाश जंगल में मिली | rae-bareli – News in Hindi

0
54
.

दोनों बच्चों के अपहरण की सूचना पुलिस के पास थी, पर पुलिस उन्हें तलाश नहीं सकी. (सांकेतिक तस्वीर)

बच्ची का अपहरण बीते 19 अगस्त को हुआ था, जबकि उसके भाई का अपहरण 1 सितंबर को. आज दोनों मासूम बच्चों के शव और कंकाल गांव के जंगल में मिलने से हड़कंप मच गया.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 3, 2020, 9:19 PM IST

रायबरेली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बीते दिनों अपहरण और हत्याओं के मामलों में हुई लगातर बढ़ोत्तरी ने सरकार को परेशानी में डाल रखा है. रायबरेली (Raebareli) की लालगंज पुलिस की कस्टडी में हुई दलित युवक की मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि आज फिर लालगंज कोतवाली के कुडवल गांव के जंगल में चचेरे भाई-बहन की लाश मिलने से सनसनी मच गई. गौरतलब है कि इस मामले में बच्ची का अपहरण (Kidnap) बीते 19 अगस्त को हुआ था, जबकि उसके भाई का अपहरण बीते 1 सितंबर को. आज दोनों मासूम बच्चों के शव और कंकाल गांव के जंगल में मिलने से हड़कंप मच गया. हालत की गंभीरता को देखते हुए जिले के आलाधिकारी और फॉरेंसिक टीम (Forensic team) मौके पर पहुंची और जरूरी साक्ष्य जुटाए. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. इस मामले में वह हत्यारों की तलाश में जुट गई है.

पुलिस की कार्यशैली पर सवाल

मामला लालगंज कोतवाली क्षेत्र का है. यहां के नरपतगंज चौकी क्षेत्र में कुडवल गांव है. इस गांव में रहने वाले ननकऊ की 8 साल की बच्ची रूबी बीते 19 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गई थी. परिजनों ने इस मामले की सूचना लालगंज कोतवाली को दी थी. जिसके बाद मामला दर्ज कर बच्ची की तलाश शुरू कर दी गई थी, लेकिन पुलिस को कामयाबी नहीं मिली. बच्ची की तलाश के लिए लखनऊ से पीएसी भी लगाई गई. कई दिन बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली रहे. इसी बीच बीते 1 सितंबर को लापता बच्ची के चचेरे भाई दीपक (11) का अपहरण हो गया. इस बाबत भी पुलिस को सूचना दी गई. 25 दिनों के भीतर एक ही परिवार के दो बच्चों के गायब होने से पुलिस की कार्यशैली पर कई सवाल खड़े हुए.

दोनों बच्चों के शव जंगल में मिलेपुलिस दोनों बच्चों की तलाश में जुटी थी कि आज दोपहर में कुडवल गांव के जंगल में मासूम दीपक का शव मिलते ही सनसनी फैल गई. पुलिस और ग्रामीणों ने उसी जंगल में सघन तलाशी अभियान चलाया. जिसके बाद जंगल के दूसरे हिस्से में बच्ची का कंकाल और कपड़े मिले. जिसके बाद यह तय हो पाया कि दोनों अपहरित बच्चों की हत्या कर शव को जंगल मे फेंका गया है. जंगल में बच्चों के शव और कंकाल मिलने की जानकारी पर पुलिस अधीक्षक सहित प्रशासन के अधिकारी भी गांव पहुंचे और हत्या से जुड़े सभी पहलुओं की बारीकी से जांच की. पुलिस अधीक्षक का दावा है कि जल्द ही इस मामले के दोषियों को गिरफ्तार किया जाएगा, हम लगातार इस मामले में कुछ लोगो से पूछताछ कर रहे हैं.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here