Sushant Singh Rajput was convinced that his illness could not be cured: psychotherapist Susan Walker | डॉ. सुजैन वॉकर ने कहा- सुशांत को यकीन होने लगा था कि वे अब ठीक नहीं हो सकते, वे अपनी बीमारी को लेकर लापरवाह थे

0
36
.

10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सुशांत सिंह राजपूत अपनी हालत के बारे में जानते थे, क्योंकि वे काफी छोटी उम्र से एंग्जाइटी का इलाज करा रहे थे : डॉ. सुजैन वॉकर

  • डॉ. सुजैन वॉकर का मुंबई पुलिस को दिया बयान मीडिया में वायरल हो रहा है
  • वॉकर के मुताबिक, सुशांत मां के बेहद करीब थे, वे पिता के क्लोज नहीं दिखे

सुशांत सिंह राजपूत की साइकोथेरेपिस्ट रहीं डॉ. सुजैन वॉकर की मानें तो वे अपनी मां के बेहद करीब थे। हालांकि, मां के निधन के बाद भी वे पिता केके सिंह के क्लोज नहीं हो सके। मुंबई पुलिस को दिया सुजैन का बयान मीडिया में वायरल हो रहा है। इसमें उन्होंने यह दावा भी किया कि सुशांत को यह यकीन होने लगा था कि वे अब ठीक नहीं हो सकते। डॉक्टर के मुताबिक, सुशांत बाइपोलर डिसऑर्डर से जूझ रहे थे।

2013-14 में बिगड़ गई थी हालत

सुजैन ने अपने बयान में कहा, “सुशांत की एंग्जाइटी 2013-14 में काफी बढ़ गई थी। अटेंशन डेफिसिट हाइपर एक्टिविटी डिसऑर्डर (एडीएचडी) के ट्रीटमेंट के दौरान कंसंट्रेशन बढ़ाने के लिए वे सप्ताह में दो बार एडरॉल दवा लेते थे। वे बहुत शर्मीले थे। इसके चलते उनके साथी उन्हें चिढ़ाते थे। जब वे 15-16 साल के थे, तब पैनिक अटैक से उनकी मां का निधन हो गया था। उनके बताए अनुसार वे अपनी मां के बहुत करीब थे। मां के निधन के बाद वे अपनी बहनों के करीब आए। लेकिन मुझे वे पिता के करीब नहीं दिखे। सुशांत स्पेस, एस्ट्रोनॉमी और फिजिक्स के बारे में डिस्कशन करते थे।”

‘पहली मुलाकात पर घबराए हुए थे’

सुजैन के मुताबिक, जब सुशांत से उनकी पहली मुलाकात हुई थी, तब वे बहुत घबराए हुए थे। वे कहती हैं, “एंग्जाइटी को 1 से 10 के स्केल पर मापा जाए तो उनकी मेंटल कंडीशन 9 पर पहुंच गई थी।”

‘रिया अच्छे से ध्यान रख रही थीं’

सुजैन ने रिया से बातचीत के आधार पर कहा कि उन्हें लगता था कि रिया अभिनेता का बहुत अच्छे से ध्यान रख रही थीं। लेकिन सुशांत खुद अपनी बीमारी को लेकर लापरवाह थे। उनके मुताबिक, जून में रिया ने उनसे बात की थी और बताया था कि सुशांत ने दवाएं लेना बंद कर दिया था और उनकी मानसिक हालत बिगड़ती जा रही है।

2013 की बात रिया ने भी कही थी

कुछ दिनों पहले रिया चक्रवर्ती ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा था कि सुशांत की तबियत 2013 में काफी बिगड़ गई थी। उनके मुताबिक, अक्टूबर 2019 में यूरोप ट्रिप के दौरान खुद सुशांत ने उन्हें यह बात बताई थी। रिया ने कहा था, “उसने बताया था कि 2013 में उसे डिप्रेशन हुआ था और तब उसने हरीश शेट्टी नाम के साइकैट्रिस्ट से मुलाकात की थी। उसके मुताबिक, तब से वह एकदम ठीक था। स्विट्ज़रलैंड में उसकी हालत और बिगड़ने लगी और हम ट्रिप बीच में ही छोड़कर भारत लौट आए थे।”

परिवार अब भी मानने को तैयार नहीं

बुधवार को सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने बताया कि परिवार सुशांत के एंग्जाइटी अटैक के बारे में जानता था। लेकिन उन्हें यह यकीन नहीं कि वे डिप्रेशन में थे।

परिवार अब भी यह स्वीकार करने में झिझक महसूस कर रहा है कि सुशांत किसी तरह की मेंटल हेल्थ से गुजर रहे थे। उनका अब भी यही आरोप है कि रिया ने उन्हें ड्रग्स देकर, उन्हें अलग-थलग कर और उनके पैसे चुराकर उन्हें खुदकुशी के लिए उकसाया। सुशांत 14 जून को मुंबई स्थित अपने किराए के फ्लैट में मृत पाए गए थे। मामले की जांच सीबीआई के पास है।

सुशांत केस से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…

1.360 डिग्री घूमा सुशांत डेथ केस:खुदकुशी की थ्योरी से शुरू हुआ मामला अब फिर वहीं पहुंचा, लेकिन एक अभिनेता की मौत बॉलीवुड को ड्रग्स मुक्त कराने का अभियान बन गई

2.सुशांत सुसाइड मामला:कुछ चैनल्स पर चल रहे ‘मीडिया ट्रायल’ के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंचे मुंबई पुलिस के पूर्व अधिकारी, पक्षपातपूर्ण और झूठी बातें फैलाने का आरोप लगाया

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here