लखीमपुर खीरी: जमीनी विवाद में पूर्व MLA निर्वेंद्र कुमार मिश्रा की मौत, बेटे की भी हालत नाजुक | lucknow – News in Hindi

0
48
.

जमीनी विवाद में पूर्व MLA निर्वेंद्र कुमार मिश्रा की मौत (file photo)

परिवार का आरोप है कि विपक्षीगण सैकड़ों हथियार से लैस लोगों को लेकर आए थे. फिलहाल मौके पर भारी पुलिस (Police Force) बल तैनात कर दिया गया है.


  • News18Hindi

  • Last Updated:
    September 6, 2020, 3:09 PM IST

लखीमपुर खीरी. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur kheri) जिले में रविवार को निघासन विधान सभा से तीन बार निर्दलीय विधायक रहे निर्वेंद्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना (75) वर्ष का दबंगों से विवाद हो गया. इस दौरान क्का-मुक्की में गिरने से उनकी मौत हो गई. उनके बेटे संजीव की भी हालत नाजुक है. मामला तहसील पलिया के त्रिकोलिया पढुआ की है. सूचना पाकर पहुंची पुलिस पड़ताल में जुट गई है. घटना के बाद लखीमपुर के एसपी सत्येंद्र कुमार ने बताया कि निर्वेन्द्र उर्फ मुन्ना पुत्र राजबहादुर निवासी ग्राम तिकोलिया पड़ुवा थाना संपूर्णानगर व विपक्षी समीर गुप्ता पुत्र किशन लाल गुप्ता व राधेश्याम गुप्ता निवासी दरगाह मोहल्ला पलिया खीरी के बीच विवादित जमीन के कब्जे को लेकर वाद विवाद हुआ था.

जमीन पर कब्जे का विवाद

एसपी के मुताबिक विवाद के दौरान निर्वेन्द्र मिश्रा जो कि पूर्व विधायक है गिर गए थे. उन्हें सीएचसी अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मृत्यु हो गई. विवादित जमीन विपक्षी समीर गुप्ता के नाम से थी जिसके कब्जे को लेकर निर्वेन्द्र मिश्रा द्वारा विरोध किया जा रहा था, निर्वेन्नद्र मिश्रा व उनके पुत्र के खिलाफ पूर्व में 107/116 सीआरपीसी की कार्यवाही की गई थी. उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के उपरांत ही मृत्यु के कारण पर प्रकाश डाला जा सकता है. एसपी ने बताया कि उनकी हार्ट अटैक से मौत हुई है. इस मामले की जांच कराई जा रही है जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढे़ं- बदायूं: दरगाह पर मन्नत मांगने जा रहे बाइक सवार 4 लोगों की मौतबता दें कि त्रिकोलिया पढुआ बस अड्डे के मेन रोड पर पूर्व विधायक की जमीन है. इस पर विवाद के चलते मामला न्यायालय में विचाराधीन है. विवादित जमीन पर विपक्षी किशन कुमार गुप्ता आज सैकड़ों लोगों के साथ कब्जा करने पहुंच गए. यह देख पूर्व विधायक भी अपने लोगों के साथ मौके पर पहुंचे. आरोप है कि कब्जा रोकने के लिए दबंगों ने पूर्व विधायक की लात-घूंसों से पिटाई कर दी. बचाव में दौड़े पूर्व विधायक के बेटे संजीव कुमार को पीटा गया. इससे दोनों घायल हो गए. फौरन इलाज के लिए पूर्व विधायक को अस्पताल लाया गया. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

हथियारों से लैस थे आरोपी

परिवार का आरोप है कि विपक्षीगण सैकड़ों हथियार से लैस लोगों को लेकर आए थे. इस घटना को पुलिस की मिलीभगत से आरोपियों ने अंजाम दी है. फिलहाल मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. पुलिस आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है.

(रिपोर्ट- मनोज कुमार)



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here