Police action on second FIR of woman who accused Gayatri Prajapati of rape, one accused arrested | पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला की दूसरी एफआईआर पर पुलिस ने की कार्रवाई, 9 महीने बाद एक आरोपी गिरफ्तार

0
31
.

लखनऊ20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला की ओर से दर्ज कराई गई दूसरी एफआईआर में एक आरोपी गिरफ्तार किया गया है।

  • बीते साल दिसंबर में महिला ने दर्ज कराई थी एफआईआर
  • अश्लील फोटो बनाकर वायरल करने की धमकी देने लगा आरोपी

उत्तर प्रदेश के पूर्व खनन मंत्री पर रेप की एफआईआर दर्ज करानी वाली महिला की ओर से दुष्कर्म को लेकर दर्ज कराई गई दूसरी एफआईआर पर लखनऊ पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल क्राइम ब्रांच की टीम ने नौ महीने के बाद एक आरोपी राम सिंह को गिरफ्तार कर लिया है और जांच कर रही है। हालांकि शुक्रवार को मेडिकल ग्राउंड पर हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने गायत्री प्रजापति को दो महीने के लिए बेल मंजूर की थी।

राजधानी के गौतम पल्ली थाने में बीते साल दिसंबर में महिला द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में हमीरपुर निवासी राम सिंह राजपूत, आशु गौड़, डीके त्रिपाठी समेत अन्य पर दुष्कर्म किये जाने आरोप लगाया है।महिला की तहरीर पर 27 दिसम्बर 2019 को गौतम पल्ली थाने में एफआईआर दर्ज कर विवेचना कर रही थी। रविवार को क्राइम ब्रांच की टीम ने इस मामले में एक मुख्य आरोपी राम सिंह राजपूत को गिरफ्तार कर लिया हैं अन्य की तलाश की जा रही हैं।

महिला का आरोप- विरोध करने पर दी गई जान से मारने की धमकी

चित्रकूट जिले में रहने वाली महिला की दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा है कि, राम सिंह राजपूत और उसके दो अन्य साथी ने मिलकर वर्ष 2016 में हमरीपुर जिले में जबरदस्ती रेप किया। महिला का आरोप हैं कि, चाय में नशीली गोली खिलाकर उसको बेहोश कर दिया गया। फिर कमरे में मौजूद उसकी बेटी की साथ अश्लील हरकतें भी की। जिसका विरोध किया तो राम सिंह ने कहा तुम्हे जान से मार दूंगा, तुम्हारी फ़ोटो वायरल कर दूंगा जैसी धमकी देते हुए ब्लैक मेल करने लगा।

महिला ने अपने एफआईआर में कहा है, मैं डर गई, जिसके बाद राम सिंह ने मेरे और बेटी के साथ दिल्ली से लेकर लखनऊ में कई महीनों तक धमकी देते हुए रेप और बेटी के साथ छेड़छाड़ करता रहा है। राम सिंह के साथ उसके दो साथी जिसमे एक आशु गौड़, डीके त्रिपाठी को नाम से जानती हूं और उसके दो साथियों को मेरी बेटी पहचानती है। जिससे देखकर वह पहचान जाएगी।

48 घंटे पहले जेल से मिली है गायत्री को जमानत
इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने बीते 48 घंटे पहले शुक्रवार को पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को अंतरिम जमानत दी थी। मेडिकल के आधार पर हाईकोर्ट ने पांच लाख रुपया के पर्सनल बॉन्ड तथा दो जमानतदारों की शर्त के साथ जमानत दी है। गायत्री प्रसाद प्रजापति ने हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में अपनी अंतरिम बेल की अर्जी डाली थी। कोर्ट ने सुनवाई के बाद दो महीने की अंतरिम जमानत की मंजूरी दी है। कोर्ट की शर्त है कि वह अंतरिम जमानत के दौरान देश छोड़कर बाहर नहीं जाएंगे।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here