Cylinder Blast In UP Balrampur Today; one killed, 4 injured; Damage to many houses | घनी आबादी के बीच गैस सिलेंडर में विस्फोट, एक की मौत, 2 घायल; आसपास के कई घरों को नुकसान, काफी दूर तक सुनाई दिया धमाका

0
44
.

बलरामपुर14 घंटे पहले

बलरामपुर में धमाके से मलबे में तब्दील हुआ मकान।

  • बलुहा चौकी क्षेत्र के गदुरहवा मोहल्ले का मामला
  • मकान में आतिशबाजी का सामान का भंडारण था

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में सोमवार सुबह करीब 10 बजे नगर कोतवाली क्षेत्र में घनी आबादी के बीच गैस सिलेंडर में जोरदार धमाका हुआ। धमाके की तीव्रता इतनी अधिक थी आसपास के 12 से अधिक मकान क्षतिग्रस्त हो गए। धमाके की गूंज काफी दूर तक सुनाई दी। इस विस्फोट में 16 साल के किशोर की मौत हो गई, जबकि दो महिलाएं घायल हुई हैं।

जिस घर में विस्फोट हुआ है, उसमें आतिशबाजी का सामान बनाया जाता है, इसलिए बड़ी संख्या में विस्फोटक का भंडारण था। यही वजह थी कि विस्फोट खतरनाक साबित हुआ। वहीं, सूचना पाकर एसपी देवरंजन वर्मा फोर्स के साथ घटनास्थल पहुंचे और फॉरेंसिक जांच का हवाला दिया है। हालांकि उन्होंने विस्फोटक के भंडारण की बात को नकारा है। कहा कि, यह धमाका गैस सिलेंडर में रिसाव के चलते हुआ है।

धमाके के बाद लोग मौके की तरफ दौड़ पड़े।

चोरी छिपे विस्फोटक का हो रहा था भंडारण

कोतवाली नगर स्थित मोहल्ला गदुराहवा में मोहमद रजा का मकान है। यहां मोहम्मद रजा के भाई अकरम ने पटाखा बनाने का लाइसेंस ले रखा है। बताया जा रहा है कि भंडारण के लिए गोदाम है। लेकिन कुछ विवाद के कारण पटाखों को चोरी छिपे घर में शिफ्ट कर लिया गया था। सुबह दस बजे के आसपास रजा की पत्नी खाना बना रही थी। इसी समय अचानक गैस सिलेंडर में विस्फोट हुआ। जिससे रजा के भांजे ननकने अली पुत्र शहादत अली की मौके पर मौत हो गई। जबकि सुबरा, रूबी घायल हो गईं। सूचना पाकर फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची है। जांच पड़ताल की जा रही है।

अकरम गिरफ्तार, घायलों को अस्पताल पहुंचाया

पड़ोसियों के मुताबिक तकरीबन एक दर्जन घरों के शीशे टूट गए, बल्कि आसपास के घरों की छतों व दीवारों में दरार आ गई है। धमाका इतना बड़ा था कि धुएं की के गुबार तकरीबन 1 घंटे तक शहर में फैलता रहा। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है। आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गयी है। उसे जेल भेजा जा रहा है।

दूर तक दिखाई दिया धुएं का गुबार।

दूर तक दिखाई दिया धुएं का गुबार।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here