भक्तो में निराशा! 109 वर्षों से चली आ रही दुर्गा पूजा की परंपरा इस साल टूटेगी

0
43
Durga Puja tradition
.

Durga Puja tradition- नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया है। कोरोना के कहर के चलते सभी प्रकार के आयोजनों पर भी प्रतिबंध लगा है। जिससे लोगों के बीच संक्रमण न फैल सके। अगले महीने से त्योहारों का सीजन शुरु होने वाला है। लेकिन इस बार लोगों में उतना उत्साह नहीं देखने को मिल रहा है। जितना हर साल नजर आता था।

Durga Puja tradition

109 साल की परंपरा इस बार टूटेगा

  • दुर्गा पूजा के आयोजना पर कोरोना का साया मंडरा रहा है। 109 साल से चली आ रही परंपरा भी इस बार टूटेगी।
  • दिल्ली में हर साल होता था दुर्गा पूजा का आयोजन।
  • धूम धाम से जगह जगह सजते थे पंडाल।
  • कोरोना के चलते इस बार नहीं होगा आयोजन।

यूपी- ढाई लाख का इनामी पुलिस की पिस्टल छीनकर हुआ फरार…

इस बार नहीं सजेगा पंडाल

  • कोरोना वायरस संक्रमण के चलते इस साल बेहद सादगी और छोटे स्तर से पूजा करने का फैसला किया गया है।
    दिल्ली में सबसे पुरानी दुर्गा पूजा का आयोजन सिविल लाइंस इलाके में होता है।
  • दिल्ली दुर्गा पूजा चैरिटेबल एंड कल्चरल समिति की ओर से होता है आयोजन।
  • 1910 से समिति द्वारा पूजा का आयोजन किया जा रहा है।
  • अरुण घोषाल ने बताया कि ऐसा पहली बार होगा कि बेहद सादगी के साथ दुर्गा पूजा का आयोजन होगा।
  • पिछले 109 सालों से पूजा समापन के बाद मां दुर्गा की प्रतिमा को विसर्जन के लिए बैलगाड़ी पर ले जाने की परंपरा भी टूट जाएगी।
  • बिना बड़ी मूर्ति के बेहद छोटी पूजा होगी, जिसमें केवल समिति के सदस्य ही हिस्सा ले सकेंगे।

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here