Rhea Chakraborty’s 86-day story in Sushant Singh Rajput death case, from ‘Sorry Babu’ to arrest | सुशांत की मौत के 44 दिन बाद सबके निशाने पर आईं रिया,ड्रग कनेक्शन सामने आया तो सिर्फ 13 दिन में गिरफ्तार हो गए भाई-बहन

0
43
.

20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रिया चक्रवर्ती पूरी तरह जांच के घेरे में 25 जुलाई के बाद तब आई थीं, जब सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी।

  • 14 जून को सुशांत की मौत की खबर सुनने के बाद भी उनके घर नहीं गई थीं रिया चक्रवर्ती, 15 जून को मॉर्चरी में पहुंचकर ‘सॉरी बाबू’ कहा था
  • 26 अगस्त को रिया के खिलाफ नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने केस दर्ज किया,तीन दिन की पूछताछ के बाद 8 सितंबर को उन्हें अरेस्ट किया गया

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के 86 दिन बाद उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने गिरफ्तार कर लिया है। 14 जून को सुशांत मुंबई में मृत पाए गए थे। लेकिन रिया पर शक की सुई पूरी तरह 28 जुलाई को तब आई, जब पटना पुलिस की एसआईटी जांच करने मुंबई पहुंची। इसके बाद रिया के खिलाफ एक के बाद एक तीन केंद्रीय जांच एजेंसियों ने जांच शुरू की। और पहली सफलता एनसीबी को मिली, जो कि सबसे बाद में जांच में शामिल हुई। रिया के लिए ये 86 दिन कैसे रहे, डालते हैं उस परा एक नजर…

जून में क्या-क्या हुआ?

14 जून: दोपहर को सुशांत सिंह राजपूत की मौत की खबर आई। इससे 6 दिन पहले 8 जून को ही रिया सुशांत का घर छोड़कर माउंट ब्लैंक स्थित अपने घर चली गई थीं। बड़ी बात यह है कि अभिनेता की मौत की खबर सुनने के बाद न रिया उनके घर गईं और न ही उनके स्टाफ को फोन लगाया।

15 जून : रिया अपने भाई शोविक के साथ कूपर हॉस्पिटल की मॉर्चरी में पहुंचीं। जहां पोस्टमॉर्टम के बाद सुशांत की डेड बॉडी को रखा गया था। अभिनेता के सीने पर हाथ रखकर रिया ने कहा, “सॉरी बाबू।”

18 जून: मुंबई पुलिस ने पूछताछ के लिए रिया चक्रवर्ती को बांद्रा पुलिस स्टेशन बुलाया। रिया ने कबूल किया कि सुशांत की फैमिली से उनके ताल्लुकात अच्छे नहीं हैं। यही वजह है कि उन्हें अभिनेता के अंतिम संस्कार से दूर रखा गया।

जुलाई में क्या-क्या हुआ?

16 जुलाई: रिया चक्रवर्ती ने गृहमंत्री अमित शाह से सुशांत डेथ केस की जांच सीबीआई से कराने की अपील की। इससे ठीक पहले यह खबर आई थी कि मुंबई पुलिस को इस बात के सबूत मिले हैं कि रिया चक्रवर्ती सुशांत के पैसे खर्च कर रही थीं।

25 जुलाई : सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना के राजीव नगर पुलिस स्टेशन में रिया चक्रवर्ती, उनके पिता इंद्रजीत, मां संध्या, भाई शोविक, सुशांत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी और हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा के खिलाफ सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया। साथ ही सुशांत के खाते से 15 करोड़ रुपए की हेराफेरी का आरोप भी लगाया।

28 जुलाई: पटना पुलिस की एसआईटी मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची। लेकिन खबर आई कि रिया और उनका परिवार घर में नहीं हैं। रात में अचानक खबर आती है कि रिया ने वकील सतीश मानशिंदे के जरिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। उन्होंने पटना में दर्ज एफआईआर को गलत बताते हुए उसे मुंबई ट्रांसफर करने की अपील की।

30 जुलाई : सुशांत के परिवार की ओर से रिया की याचिका के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दाखिल की।

31 जुलाई : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रिया चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, श्रुति मोदी सैमुअल मिरांडा के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग का केस दर्ज किया था।

31 जुलाई : पटना में एफआईआर दर्ज होने के बाद रिया चक्रवर्ती ने पहली बार सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया। इसमें उन्होंने कहा कि उन्हें भगवान और न्यायपालिका पर अटूट विश्वास है। उन्हें भरोसा है कि उन्हें इंसाफ मिलेगा। सत्यमेव जयते, सच की जीत होगी।

अगस्त में क्या-क्या हुआ?

4 अगस्त : बिहार सरकार ने सुशांत डेथ केस की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की।

5 अगस्त : केंद्र सरकार ने बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश को मंजूर किया। सुप्रीम कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की याचिका के सदर्भ में बिहार और महाराष्ट्र पुलिस से जवाब मांगा।

6 अगस्त : सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, श्रुति मोदी और सैमुअल मिरांडा के खिलाफ केस दर्ज किया।

7 अगस्त : ईडी ने रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक, सीए रितेश शाह और सुशांत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी को अपने ऑफिस में बुलाकर पूछताछ की। रिया ने उन पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया और कहा कि उन्होंने सुशांत केक पैसों की हेराफेरी नहीं की। रिया से 8 घंटे पूछताछ हुई।

9 अगस्त : ईडी ने रिया चक्रवर्ती के भाई से पूछताछ की।

10 अगस्त : रिया चक्रवर्ती ने मीडिया ट्रायल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई। ईडी के सामने दोबारा हाजिर हुईं रिया। उनसे 10 घंटे पूछताछ हुई।

11 अगस्त : सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा और सभी पार्टियों से उनके सबमिशन फाइल करने को कहा।

13 अगस्त : सीबीआई ने अपना सबमिशन फाइल किया और गुजारिश की कि मामले की जांच उन्हें और ईडी को करने दी जाए।

18 अगस्त : रिया चक्रवर्ती ने अपने वकील के जरिए बयान जारी किया और आरोपों से इनकार किया। साथ ही सुशांत की बहन प्रियंका पर उन्हें मोलेस्ट करने का आरोप लगाया।

19 अगस्त : सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में पटना में दर्ज एफआईआर को सही ठहराया और मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी। साथ ही कहा कि अगर इस मामले में कोई और एफआईआर भी दर्ज होती है तो उसकी जांच भी सीबीआई ही करेगी।

20 अगस्त : सीबीआई की एसआईटी जांच के लिए मुंबई पहुंची।

26 अगस्त : नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने रिया चक्रवर्ती व अन्य के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किया। दरअसल, ईडी ने रिया चक्रवर्ती के दो फोन को क्लोन करके उससे डिलीट डाटा रिकवर किया था। क्लोनिंग के बाद रिया के चैट के रिकॉर्ड सामने आए और उसमें ड्रग्स कनेक्शन का खुलासा हुआ था।

27 अगस्त: सुशांत की मौत के बाद रिया ने पहली बार मीडिया को इंटरव्यू दिया। एक चैनल से बातचीत में उन्होंने उन पर लगे आरोपों को नकारा। सुशांत को क्लॉस्टेरोफोबिक बताया। ड्रग्स लेने की बात से इनकार किया और कहा कि सुशांत उनकी जिंदगी में आने से पहले से ड्रग्स लेते थे।

28 अगस्त : रिया चक्रवर्ती को पहली बार सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया।

29 अगस्त : सीबीआई ने दूसरे दिन रिया चक्रवर्ती से पूछताछ की और मुंबई पुलिस से उन्हें सुरक्षा देने के लिए कहा।

30 अगस्त : रिया चक्रवर्ती को लगातार तीसरे दिन सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया।

सितंबर में क्या-क्या हुआ?

4 सितंबर : रिया चक्रवर्ती के घर एनसीबी ने छापेमारी की और पूछताछ के लिए उनके भाई शोविक चक्रवर्ती और सहयोगी सैमुअल मिरांडा को हिरासत में लिया। दोनों ने सुशांत के लिए ड्रग्स खरीदने की बात स्वीकार की और शाम को उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

5 सितंबर : शोविक और सैमुअल को मुंबई के किला कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 9 सितंबर तक के लिए एनसीबी की कस्टडी में भेज दिया गया, जहां उन्होंने रिया के ड्रग्स खरीदने, बेचने और लेने की बात स्वीकार की।

6 सितंबर : एनसीबी की टीम ने रिया चक्रवर्ती के घर पहुंचकर उन्हें समन दिया। इसी दिन उनकी पहले दिन की पूछताछ हुई।

7 सितंबर : रिया से एनसीबी ने दूसरे दिन की पूछताछ की और स्वीकार किया कि वे ड्रग्स खरीदती थीं। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि वे जो करती थीं, सुशांत के लिए करती थीं। रिया ने बांद्रा पुलिस स्टेशन में सुशांत की बहन प्रियंका के खिलाफ सुशांत को गलत दवाएं देने की एफआईआर दर्ज कराई।

8 सितंबर : रिया से एनसीबी ने तीसरे दौर की पूछताछ की और उन्होंने यह मान लिया कि ड्रग्स ले रही थीं। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here