टेक्निकल यूनिवर्सिटी की फाइनल इयर की 172 केंद्रों पर परीक्षाएं शुरू; छात्रों के साथ कॉलेज प्रशासन दिखे लापरवाह

0
228
.

 

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • UP Lucknow Final Year Exams 2020; Dr. APJ Abdul Kalam Technical University (AKTU) Final Year Examinations Begins Amid Coronavirus Outbreak

लखनऊ13 घंटे पहले

लखनऊ में बंसल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग परीक्षा केंद्र पर सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए बच्चों को प्रवेश दिया गया।

  • लखनऊ के बंसल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी परीक्षा केंद्र पर थर्मल स्क्रीनिंग के बाद छात्रों को मिला प्रवेश
  • कॉलेज के बाहर झुंड लगाकर खड़े दिखाई दिए छात्र, प्रदेश के अलग-अलग जिलों से आए थे परीक्षार्थी

कोरोना महामारी के खतरे के बीच डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) की फाइनल ईयर की परीक्षाएं मंगलवार को शुरू हुईं। 172 केंद्रों पर करीब 68 हजार छात्र परीक्षा दे रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए परीक्षा केंद्रों पर थर्मल स्क्रीनिंग व सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है। लेकिन लखनऊ के बंसल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी परीक्षा केंद्र पर अलग ही नजारा देखने को मिला। यहां एग्जाम हॉल में प्रवेश से पहले हर एक परीक्षार्थी के शरीर का तापमान मापा गया। सुरक्षा घेरे में लाइन लगाकर परीक्षार्थी इंस्टीट्यूट में दाखिल हुए। लेकिन इंस्टीट्यूट के बाहर छात्र सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते हुए दिखे।

झुंड बनाकर खड़े छात्र।

कॉलेज के बाहर लापरवाह बना रहा प्रबंधन

इसके प्रति कॉलेज प्रबंधन लापरवाह नजर आया। छात्र झुंड लगाकर खड़े थे। हालांकि इस दौरान कोरोना और पेपर का डर छात्रों के चेहरे पर जरूर देखने को मिला। छात्रों का कहना था कि कोरोना काल में पढ़ाई ठीक से नहीं हो पाई है, इसलिए थोड़ा पेपर से डर लग रहा है। वहीं कुछ छात्रों ने कहा कि पेपर देने में डर नहीं लग रहा है, लेकिन कहीं घर से परीक्षा केंद्र आने जाने में कहीं कोरोना से संक्रमित न हो जाएं, इस बात को लेकर भय जरूर है।

कोरोना का डर हावी या पेपर कैसा आएगा? छात्रों ने शेयर किए अनुभव

सीतापुर रोड स्थित रामेश्वरम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मनेजमेंट परीक्षा केंद्र पर कम्प्यूटर साइंस का पेपर देने आए अवनीश उपाध्याय ने बताया कि मैं लखनऊ का रहने वाला हूं। मुझे पेपर से डर नहीं लग रहा है, कोरोना से जरूर डर लग रहा है।

हाथों को सैनिटाइज कर एग्जाम हॉल में दाखिल हुए छात्र।

हाथों को सैनिटाइज कर एग्जाम हॉल में दाखिल हुए छात्र।

  • देवरिया के सूरज कुमार गुप्ता ने बताया कि वे रोडवेज बस से परीक्षा देने आए हैं। उन्होंने कहा कि शुरुआत में कोरोना से जरूर डर लगता था। लेकिन अब हमनें इसके साथ जीना सीख लिया है। मुझे इस बात की चिंता है कि पढ़ाई ठीक से नहीं हो पाई है। ऐसे में पेपर कैसा आएगा? इस बात को लेकर चिंता है।
सूरज।

सूरज।

  • लखनऊ की रहने वाली छात्रा शिवानी का परीक्षा केंद्र रामेश्वरम इंस्टीट्यूट में पड़ा था। शिवानी ने बताया कि राजधानी में हर दिन कोरोना केस बढ़े रहे हैं। ऐसे में इस बीमारी से भय जरूर बना रहता है। लेकिन बचाव के सभी उपाय करके आई हूं।
शिवानी।

शिवानी।

  • सीतापुर रोड स्थित बंसल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी परीक्षा केंद्र पर बीटेक फाइनल ईयर का गोरखपुर से पेपर देने आए नागेश सिंह ने बताया कि पेपर से उनको बिलकुल डर नहीं लग रहा है। पढ़ाई अच्छी हुई है।
नागेश।

नागेश।

  • जौनपुर निवासी आनन्द कुमार मौर्या ने बताया कि उनका बंसल इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी पर परीक्षा केंद्र है। बीटेक फाइनल ईयर का पेपर देने आए हैं। लखनऊ में रोजाना कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। इस लिए कोरोना से डर लग रहा है।
आनंद।

आनंद।

 

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here