कंगना रनौत: में कंगना की एंट्री पर मचा सियासी बवाल, बीएमसी ने ढहाया कंगना का अवैध निर्माण

0
20
.

 

मुंबई
मुंबई में फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के घर पर बीएमसी के कर्मचारियों ने निर्माणाधीन स्ट्रक्चर को ढहा दिया है। माना जा रहा है कि बीते दिनों कंगना रनौत ने जिस तरह से महाराष्ट्र,मुंबई और मुंबई पुलिस को लेकर तीखे बयान दिए थे। उसके बाद यह कार्रवाई बीएमसी की तरफ से की जा रही है। बीएमसी में शिवसेना की सत्ता बीते दो दशकों से भी ज्यादा समय से है। बीएमसी की कार्रवाई को लेकर बीजेपी विधायक अमित साटम ने तंज कसते हुए कहा कि बीएमसी ने बड़ी ही तत्परता से इस तोड़क कार्रवाई को अंजाम दिया है अब ऐसे ही बांद्रा इलाके में कई अवैध निर्माण कार्य हुए हैं उनको भी बीएमसी २४ घंटों के अंदर तोड़े।

संजय निरुपम ने कहा बदले की भावना से हुई कार्रवाई
पूर्व सांसद और वरिष्ठ कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने नवभारत टाइम्स ऑनलाइन से बातचीत में कहा, ” पहली नज़र में यह एक बदले की कार्रवाई नज़र आ रही है। प्रशासन को नियम कानून से काम करना चाहिए न की बदले की भावना से कंगना रनौत को अगर बीजेपी ने सुरक्षा दी है। और भविष्य में वह राजनीति में भी आएं। तब भी इस तरह से किसी का घर तोडना सही नहीं है, बातचीत से हल निकला जा सकता था। वही बीएमसी में कांग्रेस के नेता रवि राजा ने बीएमसी की कार्रवाई को सही बताया है।

कंगना देश या राज्य की समस्या नहीं है
शिवसेना नेता और सांसद अरविंद सावंत ने नवभारत टाइम्स ऑनलाइन से बात करते हुए बताया कि फिलहाल देश में ऐसा लग रहा है जैसे कंगना रनौत और सुशांत सिंह जैसे मुद्दे ही बचे हुए हैं। मेरी नजर में ना तो कंगना देश की समस्या है और ना ही राज्य की इसलिए उन पर बात करना फिजूल है। उन्होंने जिस तरह का वक्तव्य महाराष्ट्र के लिए किया है वह अपमानजनक है और उस विषय पर राज्य सरकार अपनी कार्रवाई करेगी।

कंगना का राजनीति में स्वागत है
फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को लेकर कुछ दिन पहले शिवसेना के नेता और विधायक प्रताप सरनाईक ने कहा कि कंगना रनौत ने जो कुछ भी महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस के लिए कहा है वह बिल्कुल गलत है और उस पर कार्रवाई होनी ही चाहिए। लेकिन जहां तक बात शिवसेना की महिला विंग द्वारा उनको सबक सिखाने की है तो उन्होंने इस बाबत एक प्रकार से माफी मांगी है और महाराष्ट्र के प्रति अपना आभार जताया है। इसलिए हमें अब उस विषय पर कोई बात नहीं करनी है। कंगना की सुरक्षा को लेकर के शिवसेना ने साफ तौर पर कहा है कि यह पूरी तरह से राजनीतिक एजेंडा है और भारतीय जनता पार्टी जानबूझकर महाराष्ट्र का अपमान कर रही है। कंगना रनौत बीजेपी के एजेंडे पर काम कर रही हैं।

मुस्लिम डोमिनेटेड नहीं है बॉलीवुड

कंगना रनौत ने यह भी कहा था कि बॉलीवुड मुस्लिम डोमिनेटेड है इस बात को लेकर प्रताप सरनाईक ने कहा, ‘मुझे ऐसा बिल्कुल भी नहीं लगता अगर ऐसा होता तो खुद कंगना को इतनी शोहरत हासिल नहीं होती। इसके अलावा अक्षय कुमार,अमिताभ बच्चन जैसे कई नाम हैं जिन्होंने बॉलीवुड में अच्छा मुकाम हासिल किया है और आज वह सबके लिए मिसाल भी हैं। ऐसी बातें करके कंगना देश का सांप्रदायिक माहौल भी बिगाड़ना चाहती हैं।

बीएमसी ने सही कार्रवाई की है
बीएमसी के तोड़क कार्रवाई पर प्रताप सरनाईक ने कहा कि बीएमसी वही कर रही है जो उनकी ड्यूटी है। आज अगर कंगना की जगह मैं भी कोई गलत निर्माण कार्य करवा लूंगा तो बीएमसी मेरे ऊपर भी कार्रवाई करेगी। बीएमसी को उनके घर में बनाए जा रहे निर्माण कार्य में खामियां नजर आईं और नियमों का उल्लंघन नजर आया जिसकी वजह से यह तोड़क कार्रवाई की गई है।

कंगना की राजनीति में एंट्री?
फिल्म अभिनेत्री कंगना राणावत को केंद्र सरकार द्वारा जिस तरह की सुरक्षा मुहैया करवाई गई है। वह सुरक्षा ज्यादातर बड़े राजनेताओं को मिलती है। ऐसे में यह कयास भी लगने शुरू हो गए हैं कि कंगना भविष्य में राजनीति में सक्रिय हो सकती हैं। इस विषय पर प्रताप सरनाईक ने कहा कि कंगना अगर राजनीति में आती हैं तो उनका स्वागत है लेकिन सिर्फ बोलने से काम नहीं चलेगा। वहां जनता के लिए समर्पण दिखाना होगा उनकी समस्याओं को हल होगा।

सदन में एक विधायक महिला को बेशर्म कहते हैं और कोई कुछ नहीं बोलता है

वहीं इस मामले पर भारतीय जनता पार्टी की नेता चित्रा वाघ ने कहा कि बीएमसी की कार्रवाई बदले की कार्रवाई नजर आ रही है। इसके पहले भी मुंबई शहर में कई सारे अवैध निर्माण होते रहे हैं। उन पर बीएमसी ने इतनी तत्परता कभी नहीं दिखाई मुंबई की सड़कों पर गड्ढों का अंबार है। बावजूद इसके बीएमसी ने गड्ढों को भरने के लिए यह तत्परता कभी नहीं दिखाई। चित्रा वाघ ने कहा कि यह शिवाजी महाराज का महाराष्ट्र है जहां महिलाएं सम्मान से जीती थीं। आज उसी महाराष्ट्र के सदन में एक विधायक कंगना को बेशर्म कर रहे हैं और इसपर कोई आक्षेप नहीं करता है।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here