लखनऊ : कोरोना की रोकथाम को लेकर सीएम योगी ने अफसरों को दिए ये सख्त निर्देश…

0
33
.

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की रोकथाम लिए टीम-11 के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। इस दौरान सीएम योगी ने अफसरों को कई सख्त निर्दश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी सरकारी तथा निजी चिकित्सालयों में मेडिकल संक्रमण से सुरक्षा के समस्त प्रबन्ध किए जाएं। इसके साथ ही, सभी सरकारी एवं निजी अस्पतालों में फायर सेफ्टी की भी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने लखनऊ, कानपुर नगर तथा प्रयागराज में कॉट्रैक्ट ट्रेसिंग में वृद्धि करने के निर्देश दिए। राज्य सरकार जनता को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रखने तथा कोविड-19 की बेहतर उपचार व्यवस्था उपलब्ध कराने के लिए कृतसंकल्पित, इसके लिए प्रदेश सरकार रणनीति बनाकर कार्य कर रही।

iPhone 11: फोटोग्राफी के शौकीन लोगों के लिए है ये ड्रीम फोन, मिल रहा 4,301 रुपये का डिस्काउंट

सीएम योगी ने कहा कोरोना के प्रति लोगों को सतत् जागरूक किया जाए। एल-2 तथा एल-3 कोविड चिकित्सालय में बेड्स की संख्या में वृद्धि की कार्यवाही लगातार की जाए। चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टाफ को कोविड-19 के दृष्टिगत प्रशिक्षण देकर कोविड अस्पतालों में मैनपावर बढ़ाने की कार्यवाही में तेजी लाएं

योगी ने उद्योग बन्धु की बैठक को शीघ्र आहूत किए जाने के निर्देश दिए, मुख्यमंत्री इस बैठक में उद्यमियों से संवाद स्थापित कर उनका फीडबैक प्राप्त करेंगे। जीएसटी के माध्यम से राजस्व वृद्धि के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों के साथ वर्चुअल मीटिंग करेंगे।

लखीमपुर में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, संचालिका सहित 10 लोगों को पुलिस ने दबोचा

उन्होंने यूपी पुलिस फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी के निर्माण के सम्बन्ध में सभी औपचारिकताएं पूर्ण कर शीघ्र निर्माण कार्य प्रारम्भ किया जाए। पशु टीकाकरण के लिए अभियान संचालित करने के निर्देश दिए।

जिलों में संचालित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सिस्टम पूरी सक्रियता से काम करने की नसीहत देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इस संबंध में लापरवाही की शिकायत मिलने पर सम्बन्धित जिलाधिकारी की जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी। अधिकारी डोर-टू-डोर सर्वे पर ज्यादा फोकस करें।

योगी ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए पूरी सतर्कता बरतने के साथ-साथ प्रत्येक स्तर पर प्रभावी कार्यवाही किया जाना आवश्यक है। उन्होंने जिलाधिकारियों से कहा कि वे कोविड-19 के मद्देनजर व्यवस्थाओं की प्रभावी मॉनिटरिंग सुनिश्चित करें। प्रत्येक जिलाधिकारी इस दिशा में अपने जिले में की जा रही कार्यवाही की प्रतिदिन सुबह व शाम नियमित तौर पर समीक्षा करें।

उत्तर प्रदेश : करप्‍शन को लेकर CM योगी सख्‍त, 24 घंटे में 2 IPS अफसर सस्पेंड

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here