Rajya Sabha MP Ramdas Athawale says, Kangana Ranaut Wants Compensation For Demolition – कंगना रनौत से मिलने के बाद सांसद रामदास अठावले बोले, मुआवजा चाहती हैं बॉलीवुड एक्‍ट्रेस

0
32
.

खास बातें

  • अठावले बोले, कंगना से करीब एक घंटे बात हुई
  • मैंने उनसे कहा, मुंबई में डरने की जरूरत नहीं
  • मेरी पार्टी आरपीआई उनके समर्थन में खड़ी है

मुंंबई:

बॉलीवुड एक्‍टर कंगना रनौत ( Kangana Ranaut), जिनके मुंबई की प्रापर्टी को कथित तौर पर अवैध निर्माण को लेकर बृहनमुंबई म्‍युनिसिपल कार्पोरेशन (BMC) ने बुधवार को तोड़फोड़ का शिकार बनाया, अपमानित महसूस कर रही हैं और वे मुआवजा चाहती है. यह बात राज्‍यसभा और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले (Ramdas Athawale) ने गुरुवार को कंगना के साथ मुंबई में मुलाकात के बाद कही. एनडीए में शामिल आरपीआई (ए) नेता अठावले ने इस मौके पर कंगना को अपनी पार्टी का समर्थन दोहराया.कंगना से मुलाकात के बाद अठावले ने संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा, ‘एक्‍टर कंगना रनौत से मिला, करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. मैंने उनसे कहा कि उन्‍हें मुंबई में डरने की जरूरत नहीं है. मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है और हर किसी को यह रहने का हक है. मेरी पार्टी (RPI) उनके साथ है.’ 

यह भी पढ़ें

कंगना रनौत को लेकर ठाकरे-पवार की मुलाकात में क्या-क्या हुआ…?

अठावले ने इसके साथ ही कहा, ‘उन्‍होंने (कंगना ने) मुझे कहा कि वे अपमानित महसूस कर रही हैं. ऑफिस जो उन्‍होंने जनवरी में बनवाया था, को नुकसान पहुंचाया गया. उन्‍होंने कहा कि उसे बिल्‍डर द्वारा दो-तीन इंच के अतिरिक्‍त निर्माण के बारे में पता नहीं है, बीएमसी को उस हिस्‍से को तोड़ देना था लेकिन उन्‍होंने अंदर की दीवार और फर्नीचर को नुकसान पहुंचाया. उन्‍होंने इसे खिलाफ कोर्ट की शरण ली है और इसका मुआवजा चाहती हैं.’ गौरतलब है कि बुलडोजर का इस्‍तेमाल करके बीएमसी की टीम ने कथित तौर पर नगरीय निकाय की इजाजत के बगैर किए गए बदलाव (Alteration)को तोड़ दिया था. मुंई की मेयर किशोरी पेडणेकर ने एनडीटीवी को बताया था कि वे (कंगना) 24 घंटे के अंदर जरूरी कागजात पेश करने में नाकाम रही थीं.

उद्धव ठाकरे के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग को लेकर कंगना के खिलाफ शिकायत दर्ज : पुलिस

गौरतलब है कि कंगना मुंबई और यहां की पुलिस पर अपने बयानों को लेकर विवादों (controversy)में हैं. इस मुद्दे पर वे शिवसेना के निशाने पर हैं. शिवसेना नेता संजय राउत (Shiv Sena MP Sanjay Raut) द्वारा इस बयानों के बाद कंगना को मुंबई में न आने की ‘सलाह’ दी थी, इस पर कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी. शिवसेना के नियंत्रण वाली BMC ने बुधवार सुबह कंगना के बांद्रा स्थित बंगले पर ‘अवैध निर्माण’ को गिराने की कार्रवाई शुरू की थी. हालांकि इसके कुछ ही देर बाद हाईकोर्ट से कंगना को राहत मिल गई थी और बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी गई थी.

कंगना रनौत के बयान पर राजनीति तेज़

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here