The dead body of a person hanging on the tree in front of the dhaba; Worried about not earning in lockdown, the family wanted to pay back the debt it had taken | ढाबे के सामने पेड़ पर लटकता मिला युवक का शव; लॉकडाउन में कमाई न होने से परेशान था, परिवार ने जो कर्ज लिया था उसे चुकाना चाहता था

0
41
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The Dead Body Of A Person Hanging On The Tree In Front Of The Dhaba; Worried About Not Earning In Lockdown, The Family Wanted To Pay Back The Debt It Had Taken

लखनऊ15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रतिकात्मक फोटो

  • मृतक के पिता ने बताया कि घर की आर्थिक हालात ठीक न होने के चलते बेटा शहर आया था
  • परिवार में शादी के लिए कर्ज लिया गया था, जिसको चुकाने के लिए वह परेशान रहता था

उत्तर प्रदेश में राजधानी लखनऊ के सरोजनी नगर थाना क्षेत्र में ढाबे पर काम करने वाले 35 वर्षीय व्यक्ति का शव पेड़ से लटकता हुआ मिला। बुधवार सुबह 7 बजे पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इंस्पेक्टर कहना है मृतक के खुदकुशी करने की वजह सामने आ रही है आख़िर क्यों खुदकुशी की इसकी जांच की जा रही है। मृतक ढाबे पर काम करता था।

मिली जानकारी के अनुसार दिनेश कुमार (35) पुत्र जगमोहन चौरसिया सीतापुर जिले के थाना कमलापुर, का रहने वाला था। राजधानी लखनऊ के रोहिणीनगर इलाके के बगुडू ढाबा पर दिनेश कुमार काम करता था। कल रात में काम करने के बाद वह सोने चला गया। सुबह करीब 6:40 मिनट पर ढाबे के सामने पेड़ पर दिनेश का शव लस्सी से लटका हुआ मिला।

ढाबे के मालिक ने दी थी पुलिस को सूचना

शव को लटकते देख ढाबे मालिक ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि, मृतक की पत्नी सीतापुर में रहती है। पिता जगमोहन मौर्य लखनऊ पहुंच गए हैं। पुलिस का कहना है कि, दिनेश कुमार ने क्यों फांसी लगाई इसकी जांच की जा रही हैं।

कर्ज़ में डूबा है परिवार
मौके पर पहुंचे मृतक दिनेश के पिता जगमोहन का कहना हैं। परिवार की आर्थिक हालात ठीक नहीं है। परिवार में शादी के लिए कर्ज लिया गया था। जिसे चुकाने के लिए बेटा गांव से शहर कमाने आया था। कोरोना महामारी और लॉक डाउन की वजह से खास कमाई नहीं हो पाई। पिता का कहना हैं इसको लेकर बेटा टेंशन में रहता था।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here