देवेंद्र फडणवीस सरकार: जलयुक्त को लेकर शिवसेना ने साधा फडणवीस पर निशाना – shiv sena targets fadnavis over jalyukta

0
36
.
मुंबई
जलयुक्त शिवार योजना पर कैग रिपोर्ट में दिए गए निष्कर्षों के आधार पर शिवसेना ने इस योजना के कर्ता-धर्ता पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा है। नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की ‘जलयुक्त शिवार’ पर दी गई रिपोर्ट का हवाला दते हुए शिवासेना ने गुरुवार को पूछा क्या अब फडणवीस आत्ममंथन करेंगे?

कैग ने मंगलवार को पेश की गई अपनी रिपोर्ट में कहा था कि योजना अपने उद्देश्यों को पूरा करने में विफल साबित हुई है तथा योजना को लागू करने में पारदर्शिता का अभाव भी पाया गया। विधानसभा में पेश की गई कैग रिपोर्ट में कहा गया है कि महाराष्ट्र को सूखा मुक्त राज्य बनाने के लिए तत्कालीन देवेंद्र फडणवीस सरकार ने (2014-2019) के दौरान शुरू की गई इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर 9633.75 करोड़ रुपये खर्च किए, लेकिन इसका कोई फायदा नहीं मिला। अब बंद की जा चुकी इस योजना के तहत तालाबों को गहरा और चौड़ा किया जाना, बांध बनाया जाना और नालों पर काम शुरू करना और खेतों में तालाबों की खुदाई का काम किया जाना था।

शिवसेना ने इस रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि कोई योजना कागज पर अच्छी है, लेकिन असल सवाल उसका पारदर्शी और प्रभावी कार्यान्वयन है। शिवसेना ने कहा कि यदि जलयुक्त शिवार योजना का कार्यान्वयन प्रभावी होता, तो राज्य के कुछ हिस्सों में तो पानी की कमी दूर होती, लेकिन यह हुआ नहीं। पार्टी ने फडणवीस का नाम लिए बिना कहा, ‘असल सवाल यह है कि जिन्होंने ‘जलयुक्त शिवार’ योजना को लेकर बड़ी-बड़ी बातें की थीं, क्या अब वह आत्ममंथन करेंगे कि यह असफल क्यों रही।’ उसने कहा कि विशेषज्ञों ने पूर्व शासन के दौरान भी इस योजना की आलोचना की थी, लेकिन फडणवीस ने इसे राजनीति से प्रेरित और गलत करार देते हुए नकार दिया था। शिवसेना ने पूछा, ‘अब सीएजी ने ही योजना की सफलता पर प्रश्न चिह्न लगा दिया है। वे जो योजना के बारे में बड़ी-बड़ी बातें कर रहे थे, उनका इस पर अब क्या कहना है?’

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here