इन 10 तरीकों से दूर कर सकते हैं अंडरआर्म्स की बदबू | health – News in Hindi

0
49
.

अंडरआर्म्स की स्मेल से छुटकारा पाने के टिप्स जानें

बगल में पसीने की ग्रंथियों की संख्या ज्यादा होती है और यहां ज्यादा पसीना आता है. लेकिन बगल की बदबू को कुछ प्राकृतिक उपाय अपनाकर आसानी से दूर कर सकते हैं.




  • Last Updated:
    September 13, 2020, 7:13 AM IST

बदबूदार अंडरआर्म्स यानी बगल किसी व्यक्ति के लिए अपमानजनक हो सकते हैं और दूसरों के लिए भी किसी यातना से कम नहीं. अंडरआर्म्स की बदबू के कारण व्यक्तित्व भी प्रभावित होता है और लोग न चाहते हुए भी ऐसे व्यक्ति के पास बैठने से भी कतराते हैं. myUpchar से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला का कहना है कि पहले यह समझना जरूरी है कि आखिर शरीर से दुर्गंध क्यों आती है? जब व्यक्ति स्ट्रेस में होता है तो ज्यादा पसीना आता है. ऐसे वक्त शरीर एक तरह का हार्मोन रिलीज करता है जो कपड़े के साथ मिलकर पसीने में दुर्गंध पैदा करता है. बगल में पसीने की ग्रंथियों की संख्या ज्यादा होती है और यहां ज्यादा पसीना आता है. लेकिन बगल की बदबू को कुछ प्राकृतिक उपाय अपनाकर आसानी से दूर कर सकते हैं. इन तरीकों से बगल में होने वाले पसीने से मुक्ति मिलेगी और बदबू से परेशान नहीं होंगे.

  • त्वचा के पीएच लेवल को बनाए रखने में नींबू खास भूमिका निभा सकता है. नींबू का टुकड़ा लें और बगल में 10-15 मिनट तक रखें. ऐसे करने से तन से बदबू चले जाएगी और दिनभर खुशबू का एहसास होगा.
  • फिटकरी भी इस मामले में फायदेमंद हो सकती है. फिटकरी को पहले कुछ घंटे पानी में भिगोकर रखें और उसके बाद बगल पर रगड़ें। इससे गंध दूर हो जाएगी.
  • सेब का सिरका भी बदबू की परेशानी दूर कर सकता है. सेब का सिरका बगल में सीधे इस्तेमाल करें या फिर एक कटोरी में थोड़ा पानी लेकर उसमें नीबू की कुछ बूंदें और थोड़ा सेब का सिरका डालें. इन्हें मिलाकर एक स्प्रे बॉटल में भरें. इसे बगल में नहाने के बाद स्प्रे कर लें.
  • बेकिंग सोडा भी बगल के पसीने और बदबू से छुटकारा दिला सकता है. मकई के आटे और बेकिंग सोडा को मिला लें और इसका मिश्रण बगल में अप्लाई करें. इसका इस्तेमाल त्वचा को ड्राय रखने में मदद करता है.
  • गुलाब जल का स्प्रे अंडरआर्म्स में करने पर बदबू से राहत मिलेगी. साथ ही नहाने के पानी में भी गुलाबजल की बूंदे डाल दें.
  • टमाटर का पल्प और रस निकाल कर बगलों में 15 मिनट तक लगे रहने दे और फिर नहा लें. इस प्रक्रिया को दो-तीन दिन में एक बार करेंगे तो फायदा दिखेगा.
  • टी ट्री ऑयल के एस्ट्रिंजेंट और एंटी माइक्रोबियल गुण बगलों के छिद्रों को कम करते हैं और बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ते हैं. इसके लिए एक चम्मच पानी में दो बूंद टी ट्री ऑयल की मिला लें, फिर रूई की मदद से इस मिश्रण को अपने दोनों अंडरआर्म्स पर लगाएं.
  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं और इसके इस्तेमाल से बदबू पैदा करने वाले कीटाणु खत्म होते हैं. एक कप पानी में इसे मिलाएं और इस मिश्रण में रुई डुबोकर बगलों में अप्लाई करें.
  • अंगुलियों पर थोड़ा नारियल तेल लेकर बगलों पर लगाएं और थोड़ा मसाज करें. दिन में एक से दो बार लगाएं. नहाने के बाद लगाना ज्यादा फायदेमंद है. यह गंध पैदा करने वाली कीटाणुओं को खत्म करता है.
  • एलोवेरा जेल एंटीऑक्सिडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद है. रात को एलोवेरा जेल बगलों पर लगाएं। सुबह इसे गुनगुने पानी से धो लें. (अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, एलोवेरा, जैतून के तेल, अरंडी के तेल, टीट्री ऑयल और सेब के सिरके तक बगल का कालापन दूर करने के उपाय पढ़ें।) (न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।)

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here