उद्धव ठाकरे को लेकर संतों और राम जन्मभूमि ट्रस्ट के महासचिव में ठनी, दिया विवादास्पद बयान | ayodhya – News in Hindi

0
49
.

चंपत राय ने विवादास्पद बयान दिया है.

अयोध्या के संतों (Saints) ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के अयोध्या में प्रवेश पर रोक लगाने का ऐलान किया था. जिस पर राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust) के महासचिव चंपत राय (Champat Ray) ने संतों को चुनौती देते हुए विवादास्पद बयान दिया.

अयोध्या. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Shri Ram Janmabhoomi Teerth Kshetra Trust) के महासचिव चंपत राय (Champat Ray) ने विवादास्पद बयान दिया है. उन्होंने कहा कि जिसको मां ने दूध पिलाया है वह शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अयोध्या आने से रोक कर दिखाए. दरअसल बीते दिनों यहां के संतों (Saints) ने उद्धव ठाकरे के अयोध्या में प्रवेश पर रोक लगाने का ऐलान किया था. ये संत महाराष्ट्र सरकार की कार्यप्रणाली से क्षुब्ध हैं.

एक तरफ अयोध्या के संत समाज ने पहले ही बयान जारी कर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के अयोध्या आने पर उनका विरोध करने की चेतावनी दी है. वहीं दूसरी तरफ श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने एक विवादास्पद बयान दिया है. चंपत राय ने चुनौती भरे लहजे में कहा है कि जिसकी मां ने दूध पिलाया हो वह उद्धव ठाकरे का सामना करें और उन्हें अयोध्या आने से रोके.

चंपत राय ने राजस्थान के एक गीत का जिक्र करते हुए कहा कि राजस्थान में एक गीत गाया जाता है कि जिसकी मां ने जीरा खाया वह रोके गंगा का पानी. उसी तरह अयोध्या में जिसकी मां ने जीरा खा कर इतना बलिशाली बेटा पैदा किया हो वह उद्धव ठाकरे को अयोध्या आने से रोक कर दिखाए.

चंपत राय ने यह बयान कारसेवक पुरम में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिया. बताते चलें कि अयोध्या के संतों द्वारा पहले से ही उद्धव ठाकरे के विरोध की बात कहे जाने के बाद चंपत राय का यह बयान नया विवाद खड़ा कर सकता है.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here