केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने हिंसा के शिकार पूर्व नेवी अफसर से की मुलाकात

0
38
.

हाइलाइट्स:

  • हिंसा के शिकार हुए रिटायर्ड नेवी अफसर मदन शर्मा से केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने मुलाकात की
  • हमले से आहत मदन शर्मा ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग कर दी
  • हिंसा के शिकार मदन शर्मा ने कहा कि अगर उद्धव ठाकरे सरकार नहीं चला सकते हैं तो इस्तीफा दीजिए

मुंबई
उद्धव ठाकरे सरकार से जुड़ा कार्टून वॉट्सऐप पर फॉरवर्ड करने से हिंसा के शिकार हुए रिटायर्ड नेवी अफसर मदन शर्मा से केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने मुलाकात की। मुलाकात के बाद मदन शर्मा ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की मांग कर दी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में कानून-व्यवस्था में कोई सुधार नहीं है। साथ ही उद्धव ठाकरे से इस्तीफे की मांग की।

हत्या के प्रयास का केस लगना चाहिए- आठवले
मदन शर्मा से मुलाकात के बाद आठवले ने कहा, ‘पूर्व नेवी अफसर के ऊपर जानलेवा हमला हुआ। उन्हें जान से मारने तक की कोशिश की गई।हत्या के प्रयास का केस लगना चाहिए था लेकिन सरकार इनकी है इसलिए पुलिस पर दबाव लाकर मुकदमा लगाया। नौसेना के अधिकारी पर इस तरह हमला करना अच्छी बात नहीं है, उन्हें पुलिस में जाना चाहिए था लेकिन इस तरह गुंडागर्दी करना शिवसेना की आदत है।’

पढ़ें: पूर्व नेवी अफसर के हमलावर 10 मिनट में छूटे, फडणवीस बोले- ‘राज्य प्रायोजित आतंक’ जैसा माहौल

महाराष्ट्र में लगे राष्ट्रपति शासन
मदन शर्मा ने कहा, ‘मैं राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से अपील करता हूं कि महाराष्ट्र में कानून व्यवस्था और बिगड़े इससे पहले राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया जाए।’ उन्होंने कहा कि अगर उद्धव ठाकरे सरकार नहीं चला सकते तो इस्तीफा दें। उन्होंने उद्धव सरकार को बर्खास्त करने की मांग की।

रामदास आठवले

कमलेश कदम पर धमकी देने का आरोप
आठवले से मुलाकात में मदन शर्मा ने बताया कि उन्हें शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम ने धमकी दी है। मदन शर्मा ने कहा, ‘जो व्यवहार मेरे साथ किया गया वह बहुत दुख भरा है। मेरी उम्र देखकर उन्हें पीछे हट जाना चाहिए था। यह उनके संस्कार दिखाता है। थोड़े से पैसे के लिए किसी से ऐसा काम नहीं कराना चाहिए।’

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने की थी निंदा
रिटायर्ड अफसर पर हमले की रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी आलोचना की थी। राजनाथ ने मारपीट की घटना को लेकर रिटायर्ड अफसर से बात भी की। वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने इसे राज्य प्रायोजित आतंकवाद कहा था। उन्होंने कहा कि जैसी अवस्था महाराष्ट्र में तैयार हो रही है, उससे लगता है ये राज्य की ओर से प्रायोजित आतंकवाद है।

पढ़ें: हिंसा का शिकार नेवी अफसर का आरोप- पहले शिवसैनिकों ने पीटा, फिर घर पर आई मुंबई पुलिस

6 आरोपी गिरफ्तार हुए थे, जमानत भी मिल गई
पूर्व नेवी अधिकारी से मारपीट के मामले में 6 शिवसैनिकों को गिरफ्तार किया गया था लेकिन थोड़ी ही देर बाद सभी को जमानत मिल गई। शिवसेना कार्यकर्ता कमलेश कदम मुख्य आरोपी बताया जा रहा है।

बता दें कि मुंबई के समतानगर निवासी रिटायर्ड नेवी अफसर पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जुड़ा कार्टून शेयर करने पर हमला हुआ था। उनके घर पर करीब 8-10 लोग आए थे जो शिवसैनिक बताए गए। उन्होंने मदन शर्मा पर सोसायटी के परिसर में हमला किया।

सोशल मीडिया पर वायरल मारपीट का सीसीटीवी फुटेज
पीड़ित मदन शर्मा के बयान के अनुसार, कमलेश कदम नाम के एक व्यक्ति ने फोन कर पहले उनका नाम और पता पूछा फिर दोपहर में बिल्डिंग के नीचे बुलाकर मारपीट की। मारपीट की यह घटना सोसाइटी के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी और फुटेज सोशल मीडिया पर भी जमकर शेयर की जा रही है।

पूर्व नेवी अधिकारी पर हमला करने वाले शिवसेना के लोगों की रिहाई के खिलाफ BJP ने किया विरोध प्रदर्शन

रिटायर्ड नेवी अफसर मदन शर्मा

रिटायर्ड नेवी अफसर मदन शर्मा

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here