The government will tighten its grip on the close of Bahubali MLA Mukhtar Ansari, the police will also investigate the wife’s network | बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबियों पर कसेगा सरकार का शिकंजा, पत्नी का नेटवर्क का भी खंगालेगी पुलिस

0
101
.

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • The Government Will Tighten Its Grip On The Close Of Bahubali MLA Mukhtar Ansari, The Police Will Also Investigate The Wife’s Network

लखनऊएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी और उनकी पत्नी आफसा अंसारी के करीबियों पर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इनके एक दर्जन करीबियों को पुलिस ने चिन्हित किया है जिनके खिलाफ जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

  • पुलिस ने करीब एक दर्जन करीबियों की अवैध सम्पत्तियां चिन्हित कर ली है
  • गाजीपुर जिला प्रशासन की तरफ से मुख्तार की पत्नी और दो सालों पर लगा था गैंगस्टर

उत्तर प्रदेश के मऊ की सदर सीट से विधायक मुख्तार अंसारी के करीब एक दर्जन करीबियों की अवैध संपत्तियां पुलिस ने चिन्हित कर ली है। इसमें अधिकतर में एलडीए और जिला प्रशासन से ब्योरा मिल चुका है। कुछ संपत्तियों के दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। इन विभागों से एनओसी मिलने के बाद ही सख्ती शुरू कर दी जाएगी। कुछ दिन पहले ही मुख्तार के बेटों के खिलाफ अवैध कब्जे का मुकदमा दर्ज किया गया था।

शनिवार को इस सम्बन्ध में पुलिस अधिकारियों और जिला प्रशासन के अफसरों के बीच फिर बात हुई है। माना जा रहा है कि गाजीपुर में मुख्तार की पत्नी आफसा अंसारी और उसके साले सरजील व अनवर पर गैंगस्टर की कार्रवाई के बाद लखनऊ में फाइलें फिर से खंगाली जाने लगी हैं।

इस समय पंजाब जेल में बंद मुख्तार की पूर्वांचल से लेकर लखनऊ तक में कई अवैध संपत्तियां है। उसकी शह पर रिश्तेदारों व अन्य गुर्गों ने भी कई सरकारी जमीनों पर भी कब्जा कर रखा था। इस बारे में शासन में शिकायत की गई थी। तब से ही मुख्तार पर लगातार शिकंजा कसा जा रहा है।

मुख्तार के दो बेटों अब्बास और उमर की दो बिल्डिंगें ढहा दी गई
27 अगस्त को मुख्तार के बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी की डालीबाग में करीब 10 हजार वर्ग फीट में बनी दो बिल्डिंगें ढहा दी गई थी। लखनऊ में मुख्तार के खिलाफ यह बड़ी कार्रवाई थी। इसके बाद अभी कई और संपत्तियां चिन्हित है। मुख्तार पर सख्ती की कड़ी में ही उसके गुर्गों की गिरफ्तारी और उनकी अवैध कमाई से बनी सम्पत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई भी की गई।

पत्नी का नेटवर्क खंगालेगी पुलिस
पुलिस अधिकारी बताते हैं कि मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा के नाम गाजीपुर व मऊ में ही संपत्तियां है। वहीं मुख्तार की वजह से उसका व उसके रिश्तेदारों का वर्चस्व भी रहता है। लखनऊ में वह यदा कदा ही आती है। मुख्तार जब लखनऊ जेल में थे तब वह लगातार लखनऊ में रही थी। इस दौरान यहां मुख्तार के गुर्गे उसके सम्पर्क में रहते थे। वर्ष 2002 में मुख्तार और गुर्गों पर सख्त कार्रवाई शुरू की गई थी।

0

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here