यूपी: नई स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स को मिले ये अधिकार, पढ़िए भर्ती प्रक्रिया की पूरी जानकारी

0
28
up govt
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश में विशेष सुरक्षा बल (UPSSF) के गठन की अधिसूचना जारी कर दी है। इस स्पेशल सिक्योरिटी फोर्स का क्या काम रहेगा, इनके अधिकार क्षेत्र क्या होंगे और इसके संगठानात्मक ढांचे का निर्धारण भी कर दिया गया है। बता दें कि इसका हेड क्वाटर लखनऊ में ही होगा। इसमें एडीजी के अलावा आईजी, डीआईजी जैसे अधिकारियों की तैनाती होगी।

ऐसे होगा सलेक्शन

सबसे पहले इस बल में पीएसी से पांच बटालियनों का गठन होगा। इसमें उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड को सीधी भर्ती करने का अधिकार दिया है। गृह विभाग के मुताबिक शुरु में बल में 9919 जवान होंगे। इन पर एक वर्ष में 1747 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है।

कंगना विवाद- किसी में इतना दम नहीं कि उद्धव को अयोध्या आने से रोक सके: चंपत राय

बिना वारंट होगी तलाशी और गिरफ्तारी

एडीजी लेवल के आईपीएस को इस बल का मुखिया नियुक्त किया जाएगा। विशेष परिस्थितियों में बल को बिना वारंट के तलाशी लेने और गिरफ्तारी करने का भी अधिकार दिया गया है। सरकार ने डीजीपी से इसके विधिवत गठन का रोडमैप तैयार करने को कहा है।

य् लोग भी ले सकेंगे सुरक्षा 

यूपीएसएसएफ के जवान की स्पेशल ट्रेनिंग दी जाएगी जिसके बाद इन जवानों को प्रदेश में मेट्रो रेल, एयरपोर्ट, औद्योगिक संस्थानों, बैंकों, वित्तीय संस्थानों, महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, ऐतिहासिक, धार्मिक व तीर्थ स्थलों एवं अन्य संस्थानों व जिला न्यायालयों आदि की सुरक्षा में तैनात किया जाएगा। खास परिस्थितियों में बल को बिना वारंट गिरफ्तार करने का अधिकार होगा। इन विशेष परिस्थितियों में बल का कोई सदस्य किसी मजिस्ट्रेट के आदेश के बिना तथा किसी वारंट के बिना ऐसे किसी व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकता है

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here