जालौन में गिरफ्तारी से बचने के लिए आरोपी ने नाले में लगाई छलांग, भीड़ ने बाहर निकाल पुलिस को सौंपा

0
29
.

उत्तर प्रदेश में पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए वांछित अपराधी नए-नए पैंतरे आजमा रहे हैं। कभी गले में तख्ती टांगकर थाने में सरेंडर की तस्वीरें सामने आती हैं तो कभी नाटकीय ढंग से कोर्ट में आत्मसमर्पण की खबरें सुर्खियां बनती हैं। ताजा मामला जालौन जिले का है। यहां सोमवार को एनकाउंटर से बचने के लिए एक अपराधी नाले में कूद गया और शोर मचाकर भीड़ बटोर ली। भीड़ से नाले से निकालने की मिन्नतें करने लगा। मामला समझने के बाद लोगों ने पुलिस की मदद की और अपराधी को नाले से बाहर निकालकर पुलिस के हवाले कर दिया।

उरई कोतवाली क्षेत्र का मामला

यह मामला उरई कोतवाली क्षेत्र का है। जिला परिषद के पास नईम नाम के एक शख्स का घर है। वह लूट व चोरी की गाड़ियों की खरीद-फरोख्त करता है। पुलिस को उसकी कई दिनों से तलाश थी, लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा था। सोमवार दोपहर पु​​​​लिस को सूचना मिली कि नईम अपने घर में छिपा है। पुलिस टीम ने उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी, लेकिन उसे पुलिस के आने की भनक लग गई।

मामला समझने के बाद लोगों ने नईम से पीछा छुड़ाया

वह एनकाउंटर के डर से पुलिस को चकमा देकर भागने लगा। पुलिस ने पीछा किया तो उसने पास के एक नाले में छलांग लगा दी और शोर मचाने लगा। शोर सुनते ही भीड़ इकट्ठा हो गई। इसके बाद अपराधी ने अपनी जान बचाने की जनता से गुहार लगाई। आम लोगों ने मामला समझने के बाद पुलिस की मदद की और उस अपराधी को बाहर निकाला। पुलिस ने बताया कि नईम एक शातिर अपराधी है और लूट चोरी की गाड़ियों की सप्लाई करता है, जिसे गिरफ्तार करने टीम गई थी लेकिन वह नाले में कूद गया।

Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here