अपराधियों को वकील की ड्रेस में हाजिर कराने को लेकर यूपी बार काउंसिल गंभीर, दी ये चेतावनी | allahabad – News in Hindi

0
46
.

यूपी बार काउंसिल (सांकेतिक तस्वीर)

यूपी बार काउंसिल (UP Bar Council) अध्यक्ष जानकी शरण पांडे का कहना है कि काउंसिल के संज्ञान में ऐसा आता है कि किसी वकील ने आरोपी को वकील की ड्रेस पहनाकर कोर्ट में सरेंडर कराया है तो इसे व्यवसायिक कदाचार मानते हुए वकील के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

प्रयागराज. यूपी बार काउंसिल (UP Bar Council) ने अपराधियों (Criminals) को पुलिस और प्रशासन से बचाने के लिए कोर्ट (Court) में सरेंडर कराने के दौरान वकील के ड्रेस में ले जाने के मामले को गंभीरता से लिया है. यूपी बार काउंसिल के अध्यक्ष जानकी शरण पांडे ने सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि वकीलों का यह कार्य पूरी तरह से अनुचित और गैरकानूनी है. उन्होंने कहा है कि ऐसा करना व्यवसायिक कदाचार माना जाएगा और दोषी वकील के खिलाफ कठोर कार्रवाई भी की जाएगी.

कोर्ट के पीठासीन अधिकारी भी तत्काल सूचना दें

यूपी बार काउंसिल प्रदेश में वकीलों का पंजीकरण यानी रजिस्ट्रेशन करती है. इसके साथ ही साथ उन्हें रेगुलेट करने वाली सर्वोच्च संस्था है. यूपी बार काउंसिल के अध्यक्ष ने ऐसे वकीलों के खिलाफ कार्रवाई के साथ ही साथ हाईकोर्ट और जिला कोर्ट को भी अलग से ऐसे मामले संदर्भित किए जाने की बात कही है. यूपी बार काउंसिल ने सभी अदालतों के पीठासीन अधिकारियों से भी अपेक्षा की है कि ऐसा कोई मामला सामने आने पर यूपी बार काउंसिल को तत्काल सूचित किया जाए.

आरोपियों को गिरफ्तारी से बचाने के लिए वकील की ड्रेस का इस्तेमालयूपी बार काउंसिल के अध्यक्ष ने आरोपियों को अदालत में सरेंडर करने के लिए अनुचित साधनों का प्रयोग करने और इसके नाम पर आरोपियों से वसूली करने वाले वकीलों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि काउंसिल के संज्ञान में आया है कि आरोपियों की गिरफ्तारी से बचाने के लिए वकील के ड्रेस में उन्हें अदालत तक ले जाया जाता है. उन्होंने कहा है कि ऐसा करने में अपराधियों के वकील ही उनकी मदद भी करते हैं.

यूपी बार काउंसिल अध्यक्ष का कहना है कि यदि यूपी बार काउंसिल के संज्ञान में ऐसा आता है कि किसी वकील ने आरोपी को वकील की ड्रेस पहना कर कोर्ट में सरेंडर कराया है तो इसे व्यवसायिक कदाचार मानते हुए वकील के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.



Source link

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here