कानपुर: हैलट अस्पताल का हाल बेहाल, भगवान भरोसे मरीज, सीएमओ सिफारिशी मरीज का भी नहीं हुआ इलाज

0
22
.

लखनऊ। कानपुर स्थित हैलट अस्पताल में जाने वाला भगवान भरोसे ही इलाज कराता है क्योंकि अस्पताल भरोसे इलाज तो न के बराबर होता है। हैलट में लापरवाही और बेपरवाही का नजारा एक बार फिर देखने को मिला। दरअसल, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के उपाध्यक्ष अतींद्र भारद्वाज के कोविड रोगी 65 वर्षीय पिता को हैलट के मेटरनिटी विंग में सीएमओ की सिफारिश के बाद भी इलाज नहीं मिला।

परिजन जब मरीज को लेकर अस्पताल पंहुचे तब वो वहां का नजारा देखकर दंग रह गए। वहां पर डॉक्टर टीवी देख रहे थे और स्टाफ ताश खेलता मिला। बड़ी मुश्किल से जो बेड मिला उसकी चादर में भी खून लगा था। जिसके बाद विराध करने पर हंगामा कट गया।

यूपी- पुलिस मुठभेड़ में 20-20 हजार के दो इनामिया गिरफ्तार, एक गोली लगने से घायल

मामले की सूचना मिलते ही मौके पर सीएमओ डॉ. अनिल कुमार मिश्रा पहुंचे जिसके बाद में लाइफ सपोर्ट सिस्टम वाली एंबुलेंस से रोगी को नारायणा मेडिकल कालेज ले जाकर भर्ती कराया गया। आजादनगर निवासी अतींद्र के पिता को सीएमओ डॉ. अनिल कुमार मिश्रा ने दोपहर उनके घर जाकर देखा था और हैलट में बेहतर इलाज का आश्वासन दिया था। सीएमओ ने मेडिकल कालेज और हैलट के अधिकारियों को सारी तैयारी रखने को कहा।

लेकिन सोमवार रात जब रोगी को लेकर घरवाले पहुंचे तो वहां कोई तैयारी नहीं थी। अतींद्र खुद पीपीई किट पहनकर कोविड वार्ड में गए। सीएमओ और उप प्राचार्य डॉ. रिचा गिरि भी पहुंचीं। सीएमओ ने कहा कि हैलट की अव्यवस्था जिलाधिकारी को बताएंगे।

लखनऊ- कमलेश तिवारी हत्याकांड के आरोपी पर लगा गैंगस्टर, पुलिस ने बरेली से किया गिरफ्तार

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here