कंगना रनौत ने शेयर की अपनी फेवरेट फोटो, लिखा- मां रोमांटिक पोज देना चाहती थी, लेकिन पापा को लग रहा था अजीब

0
46
Kangana Ranaut shared favorite photo wrote Mother romantic poses Papa felt
.

मनोरंजन डेस्क. कंगना रनोट ने ट्विटर पर अपने पैरेंट्स की एक फोटो साझा की है, जिसमें वे साथ-साथ पोज दे रहे हैं।

कैप्शन में उन्होंने लिखा है, “अपने पैरेंट्स की सबसे पसंदीदा फोटोज में से एक। मां कुछ रोमांटिक होकर फोटो खिंचवाना चाहती थीं और पापा को यह कुछ अजीब लग  रहा था। हाहा। लव लेटर और आंखों से रोमांस करने वाले जमाने की जनरेशन। दिलचस्प।” बीते 16 दिन में यह पहली बार है, जब एक्ट्रेस ने किसी पर निशाना साधने की बजाय खूबसूरत यादों से जुड़ी फोटो साझा की है।

कंगना के लिए ऐसे रहे बीते 16 दिन

  • 3. सितंबर को मुंबई की तुलना पीओके से कर विवाद को जन्म दिया। आरोप लगाया कि संजय राउत ने उन्हें मुंबई न आने की धमकी दी है।
  • 4 सितंबर को कंगना ने संजय राउत और शिवसेना को धमकी दी कि वे 9 सितंबर को मुंबई आ रही हैं, किसी के बाप में दम हो तो रोक ले।
  • 5 सितंबर को पालघर लिंचिंग और सुशांत मामले को लेकर मुंबई पुलिस की निंदा की। इसी रोज शिवसेना नेता संजय राउत ने उन्हें हरामखोर कहा।
  • 6 सितंबर को कंगना संजय राउत पर बरसीं और कहा कि देश में महिलाओं के बलात्कार और घरेलू हिंसा के लिए राउत जैसे लोगों की मानसिकता ही जिम्मेदार है।
  • 7 सितंबर को कंगना ने बिना नाम लिए दीपिका पादुकोण पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा कि एम्स ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में खुदकुशी की संभावना से इनकार किया है। उन्होंने हत्या की आशंका जताई है। डिप्रेशन गैंग वाले कहां हैं? इसी रोज बीएमसी पर उनके पड़ोसियों को धमकाने का आरोप लगाया।
  • 8 सितंबर को मुंबई पुलिस और महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख को घेरते हुए कहा कि अगर उनके खिलाफ ड्रग्स की जांच होती है तो वे बहुत खुश होंगी। दरअसल, इससे एक दिन पहले अनिल देशमुख ने कंगना के खिलाफ ड्रग्स एंगल से जांच करने के आदेश दिए थे।
  • 9 सितंबर को बीएमसी ने कंगना का ऑफिस तोड़ा। इसी रोज वे मुंबई पहुंचीं और एक वीडियो जारी कर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा। कंगना ने तू-तड़ाक वाली भाषा का इस्तेमाल करते हुए ठाकरे के लिए कहा, “आज मेरा ऑफिस टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा।”
  • 10 सितंबर को शिवसेना पर निशाना साधा और अपने ट्वीट में लिखा, “जिस विचारधारा पर बाला साहेब ठाकरे ने शिव सेना का निर्माण किया था, आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेच कर शिव सेना से सोनिया सेना बन चुके हैं।”

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here