सीएम योगी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देवीपाटन मण्डल के विकास कार्यों की समीक्षा कर अधिकारियों को दिए ये निर्देश

0
49
.

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से देवीपाटन मण्डल के विकास कार्यों की विस्तृत समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने देवीपाटन मण्डल में 3 आकांक्षात्मक जनपदों-बलरामपुर, श्रावस्ती एवं बहराइच में नीति आयोग के मानकों के अनुसार विकास कार्यों को तेजी से बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि इन जनपदों में अच्छी प्रगति हुई है, किन्तु और कार्य किए जाने की जरूरत है। विकास कार्यों में एक निरन्तरता होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी जनपदों में कुछ न कुछ नया कार्य किए जाने का प्रयास राज्य सरकार द्वारा किया गया है। जिन विकास योजनाओं की धनराशि शासन स्तर पर लम्बित है, उन्हें शीघ्र अवमुक्त करते हुए कार्यों को तेजी से पूर्ण कराया जाए। इससे आकांक्षात्मक जनपदों का तेजी से विकास होगा।

मण्डल के जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद करते हुए सीएम योगी ने मण्डल के विभिन्न जनपदों में निर्माणाधीन विकास परियोजनाओं की प्रगति के सम्बन्ध में फीडबैक प्राप्त किया। जनप्रतिनिधियों ने सीएम योगी द्वारा विकास कार्यों की मॉनीटरिंग किए जाने तथा कोविड-19 से बचाव व उपचार के सम्बन्ध में उनके प्रयासों की सराहना की।

उन्होंने अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय व संवाद बनाकर विकास योजनाओं के सम्बन्ध में कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा उठाई गयी समस्याओं का समाधान प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। उनके द्वारा दिऐ गये प्रस्तावों पर शीघ्रता से निर्णय देते हुए जनपद व शासन स्तर पर कार्यवाही की जाए।

मुख्तार अंसारी के बड़े भाई अफजाल अंसारी पहुंचे एलडीए ऑफिस, कहा- हमें संविधान पर पूरा भरोसा…

शिलान्यास व लोकार्पण सम्बन्धी कार्यक्रम जनप्रतिनिधिगण के माध्यम से सम्पन्न कराए जाएं। विकास कार्यों की प्रगति का भौतिक सत्यापन करते हुए यूटिलाइजेशन सर्टिफिकेट समय से प्रेषित किया जाए, जिससे धनराशि समय से निर्गत हो सके। उन्होंने कहा कि किसी भी परियोजना के प्रारम्भ होने पर मानक के अनुरूप धनराशि अवमुक्त होनी चाहिए, जिससे परियोजना पर कार्य तत्काल प्रारम्भ हो सके।

सीएम योगी ने परियोजनाओं और विकास कार्यों को समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से मानकों के अनुसार पूर्ण किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि निर्धारित अवधि में कार्य के पूर्ण होने से लागत में कमी आती है और जनता को विकास योजनाओं का समय से लाभ मिलता है। उन्होंने कहा कि कार्यदायी संस्थाओं के कार्य समयबद्ध व मानकों के अनुरूप हों। कार्यदायी संस्थाओं द्वारा किए गए कार्यों की समय-समय पर समीक्षा की जाए। इससे कार्यों में गति आएगी, गुणवत्ता रहेगी और कार्य समयबद्ध ढंग से पूरे होंगे। उन्होंने कहा कि जनपद स्तर पर प्रत्येक विकास परियोजना के लिए नोडल अधिकारी तैनात हो। इससे भी परियोजनाओं की गति में तेजी आएगी।

उन्होंने कहा कि जिन विकास कार्यों के लिए जनपद स्तर पर भूमि की आवश्यकता है, उससे सम्बन्धित प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण करते हुए, भूमि की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। सामुदायिक शौचालय व ग्राम पंचायत सचिवालय के लिए भूमि चिन्ह्ति करने का कार्य किया जाए। इनके निर्माण सम्बन्धित कार्यों को प्राथमिकता से पूर्ण कराने की कार्यवाही हो। उन्होंने कहा कि शुद्ध पेयजल की आपूर्ति से बीमारियों से बचाव होता है। प्रत्येक जनपद में पाइप पेयजल योजना के सम्बन्ध में समीक्षा करते हुए, उसे प्रारम्भ कराए जाने की कार्य योजना बनायी जाए।

प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, कहा- बेरोजगार युवा कोर्ट, कचेहरी के चक्कर लगाने को मजबूर

उन्होंने कहा कि यह योजना उपयोगी और व्यावहारिक होनी चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण व शहरी) के कार्यों तथा स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत बने सभी शौचालयों की जियो टैगिंग की जाए। उन्होंने आगे कहा कि मण्डल के हर जनपद में ओ0डी0ओ0पी0 के तहत उत्पादों को बढ़ावा दिया जाए। उनकी बेहतर ब्राण्डिंग व मार्केटिंग की जाए। जनपद स्तर पर बैंकर्स समिति के साथ बैठकें कर एम0एस0एम0ई0 और ओ0डी0ओ0पी0 के तहत ऋण वितरण कार्य को बढ़ावा दिया जाए।

उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में कई कार्यों की संभावनाएं हैं। प्रत्येक विकास खण्ड पर एफ0पी0ओ0 का गठन हो। कोल्ड स्टोरेज व गोदामों के निर्माण कार्यों को प्राथमिकता के स्तर पर किया जाए। मनरेगा के तहत अधिक से अधिक संख्या में रोजगार उपलब्ध कराए जाएं। कुपोषित परिवारों को गाय उपलब्ध कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। गोवंश आश्रय स्थल का कार्य तेजी से आगे बढ़ाया जाए।

सीएम योगी ने देवीपाटन मण्डल के थारू क्षेत्र एवं वनटांगिया गांवों को समस्त विकास और जनकल्याणकारी योजनाओं से संतृप्त किए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इन क्षेत्रों व गांवों को कनेक्टिविटी से जोड़ा जाए। विकास योजनाओं का लाभ यहां के निवासियों को हर हाल में मिले। उन्होंने थारू क्षेत्रों को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव उपलब्ध कराने की बात कही।

यूपी- 8 बच्चों की मां प्रेमी संग फरार, हकीकत जानकर रह जाएंगे हैरान

उन्होंने कहा कि यह मण्डल बाढ़ से भी प्रभावित होता है। बाढ़ से होने वाली क्षति का समय से सर्वे व आंकलन करके भेजा जाए, जिससे प्रभावितों को समय से मुआवजा दिया जा सके। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार सड़कों और भवनों की मरम्मत के लिए भी इस्टीमेट समय से प्रेषित किया जाए। उन्होंने कहा कि सड़कों को गड्ढामुक्त करने और उनके नवनिर्माण का कार्य सभी सम्बन्धित विभाग तत्परतापूर्वक आगामी पर्वों व त्योहारों से पूर्व सुनिश्चित करें।

सीएम योगी ने देवीपाटन मण्डल में कोविड-19 की स्थिति के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल को पूरी क्षमता के साथ संचालित किया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के लक्षण पाए जाने पर मरीजों को तत्काल कोविड अस्पताल में भर्ती किया जाए। उन्होंने कहा कि सर्विलांस और कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग पर फोकस किया जाए। इससे अधिक से अधिक जीवन रक्षा की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि गोण्डा में कोविड-19 के उपचार की अच्छी सुविधाएं उपलब्ध हैं, इनका पूरा उपयोग किया जाए।

इस भोजपुरी Actress ने फिल्म सिटी बनने पर जताई खुशी, कहा- यूपी व बिहार के कलाकारों को रोजगार मिलेगा

 

Authors

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here